कनॉट प्लेस में एप से ढूंढो टॉयलेट


नई दिल्ली: स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) में शौचालय ढूंढने के लिए दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा। गूगल मैप्स के जरिए कनॉट प्लेस समेत पूरे एनडीएमसी इलाके में टॉयलेट को ढूंढा जा सकेगा। इसके लिए भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय द्वारा रफी मार्ग स्थित स्मार्ट शौचालय से दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के शौचालयों को गुगल मैप्स पर खोजने के लिए एक जागरूकता अभियान का शुभारंभ किया। भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय में संयुक्त सचिव और स्वच्छ भारत मिशन के निदेशक प्रवीण प्रकाश ने बताया कि यह अभियान जनता को अपने निकटतम जन शौचालय परिसर या सामुदायिक शौचालय परिसरों को गूगल आधारित मानचित्र पर खोजने के प्रति जागरूक करने के लिए चलाया जायेगा।

नगर निकायों के शौचालयों के साथ-साथ पेट्रोल पम्पों, शॉपिंग मॉल, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर स्थित सभी शौचालयों को शामिल किया गया है। इनको जनता अपने स्मार्ट फोन में गूगल पर खोजकर प्रयोग कर सकेगी और उनके बारे में अपनी राय भी वहां के फीडबेक विकल्प पर दर्ज कर सकेगी। 12 जुलाई से 11 अगस्त तक यह अभियान एक महीने तक चलाया जाएगा। सबसे साफ-स्वच्छ शौचालय को पुरस्कृत भी किया जायेगा।

इस दौरान दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के सभी नौ नगर निकायों (उत्तरी दिल्ली नगर निगम, पूर्वी दिल्ली नगर निगम, दक्षिणी दिल्ली नगर निगम, नई दिल्ली नगरपालिका परिषद्, दिल्ली छावनी बोर्ड, गुडग़ांव, फरीदाबाद, गाजियाबाद और नोएडा नगर निगमों) के शौचालयों में एक लाख साबुन भी वितरित किये जाने की योजना है। नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् के अध्यक्ष नरेश कुमार ने बताया कि पालिका परिषद के समस्त जनसुविधा परिसर /शौचालय गुगल मानचित्र पर अंकित किये जा चुके है और इन्हें दिल्ली के नागरिक या यहां आने-जाने वाले पर्यटक गूगल पर खोज सकते हैं और उनका प्रयोग निशुल्क कर सकते हैं। अब तक 331 शौचालयों को पालिका परिषद गुगल मानचित्र के साथ-साथ मोबाइल एप्प ‘एनडीएमसी 311’ पर भी अंकित कर चुकी है और तीन महीने में इन शौचालयों की संख्या 372 हो जायेगी।