बारिश के कहर से 12 की मौत


नयी दिल्ली : देश के कई हिस्सों में लगातार बारिश का कहर जारी है और बारिश से जुड़ी घटनाओं के चलते आज 12 लोगों के मरने की रिपोर्ट मिली। असम में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है जबकि ओडिशा में इसमें मामूली सुधार देखा गया है। राष्ट्रीय राजधानी में आज धूप खिली रही। अधिकतम तापमान बढ़कर 37 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया और अत्यधिक उमस के कारण लोगों को परेशानी हुई। असम में बाढ़ से संबंधित घटनाओं में चार लोगों, गुजरात में तीन और ओडिशा में दो तथा राजस्थान एवं हिमाचल प्रदेश में एक…एक व्यक्ति के मरने की रिपोर्ट है। जम्मू कश्मीर में भी बाढ़ के चलते दो व्यक्तियों के मरने की आशंका है। असम में बाढ़ से चार और लोगों के मरने की रिपोर्ट के बाद अब राज्य में बाढ़ से मरने वालों की संख्या बढ़कर 69 हो गयी है जबकि इसके 16 जिलों में नौ लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं।

धुबरी, गोलाघाट में नुमालीगढ़ स्थित धनसिरी और करीमगंज में बदरपुरघाट के तट पर ब्रहमपुत्र नदी और करीमगंज में कुशियारा नदी अब भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। ओडिशा के रायगढ़ा और कालाहांडी जिलों में बाढ़ की स्थिति में मामूली सुधार रहा जबकि राज्य सरकार ने नियामगिरी पहाडय़िों के दो गांवों में स्थिति के आकलन के लिये तट रक्षक विमान को सेवा में लगाया है। लगातार बारिश के कारण अचानक आयी बाढ़ के चलते ये गांव राज्य के बाकी हिस्सों से कट गये हैं। मलकानगिरी जिला में आज दो लोगों के मरने की रिपोर्ट है जबकि राज्य सरकार ने बारिश की संभावना को देखते हुए 12 जिलों में चेतावनी जारी की है।

अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण गुजरात के सूरत, वलसाड और नवसारी जिलों में भारी बारिश हुई जबकि राज्य के अन्य हिस्सों में भी कल हल्की बारिश हुई थी। राज्य में एक सप्ताह के अंदर बारिश से जुड़ी घटनाओं में 14 लोगों की मौत हो गयी। हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के चलते हुए भूस्खलन में पांच साल के एक मासूम की मौत हो गयी और कांगड़ा जिला को जोडऩे वाली सड़क के टूट जाने और भूस्खलन तथा बारिश से जुड़ी घटनाओं के कारण राज्य के बाकी हिस्सों में जनजीवन प्रभावित रहा। मुंबई में भी लगातार चौथे दिन बारिश जारी रही। राजस्थान के सिरोही जिला में बारिश के पानी से लबालब एक नाले के तेज बहाव में दो लड़कियां बह गयीं। जम्मू कश्मीर के उधमपुर जिला में अचानक आई बाढ़ में एक लड़की समेत दो व्यक्ति बह गये।