30 मिनट… वजीराबाद से एयरपोर्ट


नई दिल्ली: पूर्वी और उत्तरी पूर्वी दिल्लीवालों के लिए एयरपोर्ट तक पहुंचना अब मिनटों का खेल होगा। नार्थ-साउथ कॉरिडोर के माध्यम से वजीराबाद सिग्नेचर ब्रिज से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट की दूरी महज 30 मिनट में तय की जा सकेगी। दिल्ली सरकार ने इस कॉरिडोर को पूरा करने के लिए तेजी से काम करना शुरू कर दिया है। इस कॉरिडोर पर हाईस्पीड बसें चलाई जाएंगी। लोगों को सार्वजनिक परिवहन के इस्तेमाल के लिए बढ़ावा देने के लिए हाईस्पीड बसों का इस्तेमाल किया जाएगा। दिल्ली के लोक निर्माण विभाग मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि मंगलवार को एलजी अनिल बैजल के समक्ष नार्थ-साउथ कॉरिडोर की प्रस्तुति दिखाई गई।

उन्होंने बताया कि करीब 28.6 किलोमीटर लंबे इस प्रोजेक्ट में छह किलोमीटर सुरंग (जखीरा से पंखा रोड तक) नौ किलोमीटर नाले पर व अन्य क्षेत्र में एलीवेडेट कॉरिडोर बनाया जाएगा। छह लेन का यह कॉरिडोर पूरी तरह से सिग्नल फ्री होगा। काम शुरू होने के बाद इसे बनाने में करीब साढ़े तीन वर्ष का समय लगेगा। प्रोजेक्ट की लागत करीब छह हजार करोड़ आएगी। जैन ने कहा कि प्रोजेक्ट को लेकर रास्ते में आ रही जमीन पर संबंधित एजेंसियों से बात हो चुकी है। इस प्रोजेक्ट में किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है। एलजी ने भी इस प्रोजेक्ट को जल्द बनाने की दिशा में काम करने को कहा है। उन्होंने कहा कि यूटीपैक से अंतिम मंजूरी मिलते ही इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा।