जल्द ही दिल्ली में लागू होगा आनंद मैरिज एक्ट: सिरसा


नई दिल्ली: पिछले कुछ समय की जद्दोजहद के बाद दिल्ली में आनंद मैरिज एक्ट को मंजूरी दे दी गई है। इसके तहत सिख जल्द ही अपने विवाह को मैरिज एक्ट के तहत रजिस्टर करवा सकेंगे। उक्त जानकारी दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा ने एक बयान जारी करके दी। सिरसा ने कहा कि इस एक्ट को संसद और राष्ट्रपति द्वारा पास किया जा चुका है लेकिन दिल्ली में अभी तक इसे लागू नहीं किया गया था। कुछ समय पहले इस मामले को उपराज्यपाल अनिल बैजल के समक्ष रखा गया जिसके बाद इस एक्ट को मंजूरी दे दी गई। सिरसा ने कहा कि एक्ट लागू करने की फाइल उपराज्यपाल के कार्यालय द्वारा डिवीजनल कमिश्नर को भेजी गई, जिन्होंने इस फाइल को मंजूरी देकर सचिव कानून को भेज दी है।

अब जल्द ही सचिव कानून द्वारा दो दिनों में यह पास करके दोबारा उपराज्यपाल के पास भेजी जाएगी और उपराज्यपाल की मंजूरी के बाद दिल्ली में एक्ट लागू हो जायेगा। बता दें कि वर्ष 1909 में पहली बार इस मैरिज एक्ट की मांग उठी थी। उसके बाद से इस एक्ट को लागू करने के लिए लड़ाई लड़ी जा रही थी। इसके चलते 2012 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल के समक्ष यह प्रस्ताव रखा गया जिसे राष्ट्रपति ने तुरंत पास करवा दिया और साथ ही सभी राज्यों में इस एक्ट को लागू करने के लिए कहा गया था। अब अनिल बैजल की मंजूरी से जल्द ही दिल्ली के सिख परिवार इस एक्ट के तहत अपनी शादी रजिस्टर करवा सकेंगे।