बवाना सड़कों की मरम्मत एक महीने भीतर होंगी : केजरीवाल


नयी दिल्ली : दिल्ली विधानसभा की बवाना सीट पर संभावित उपचुनाव में विपक्षी दल भाजपा और कांग्रेस द्वारा चुनावी अभियान शुरू करने के साथ ही सथारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) ने भी इलाके में अपनी संभावनाएं तलाशना शुरू कर दिया है। इस सिलसिले को आगे बढ़ाते हुये आप संयोजक और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बवाना में जनसंवाद कर स्थानीय लोगों की समस्याओं को जाना। इस दौरान इलाके में पद यात्रा करते समय सड़कों की बदहाली पर नाराजगी जताते हुये केजरीवाल ने एक महीने के भीतर सड़कों की मरम्मत का काम शुरू करने का निर्देश दिया। इस दौरान मौजूद लोकनिर्माण मंत्री सत्येन्द्र जैन को केजरीवाल ने निर्देश दिया कि इलाके की सभी टूटी सड़कें तीन महीने में दुरऊस्त करने का लक्ष्य तय कर काम शुरू किया जाये।

केजरीवाल ने सड़कों की बदहाली की हकीकत स्वीकारते हुये इसके लिये बवाना से आप के टिकट पर चुनाव जीते उम्मीदवार ब्रहमदथ को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि अब भाजपा का दामन थाम चुके ब्रहमदथ ने न सिर्फ आप को बल्कि बवाना की जनता को भी धोखा दिया। इसलिये इलाके में जनसुविधाओं की बुरी हालत हुई। उन्होंने कहा कि गलत व्यक्ति को उम्मीदवार बनाने की गलती हमसे हुई है। विधायक बनने के बाद दो साल में उन्होंने एक बार भी मुख्यमंत्री कार्यालय को इलाके की समस्याओं से अवगत नहीं कराया। उपचुनाव में ब्रहमदथ अब भाजपा के उम्मीदवार होंगे जबकि कांग्रेस ने इस सीट से पूर्व विधायक सुरेन्द, कुमार और आप ने राम चंद्र को उम्मीदवार बनाया है। इस दौरान केजरीवाल ने शाहबाद डेरी में पानी की समस्या का जिक्र करते हुये कहा कि बवाना में पानी की समस्या वाले सभी इलाकों में तीन सप्ताह के भीतर पानी आने लगेगा।