कांग्रेस 14 प्रतिशत स्लैब वाला जीएसटी चाहती थी: अजय माकन


ajay maken

नई दिल्ली: दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने जीएसटी के वर्तमान स्वरूप के विरोध में 18 जुलाई को संसद का घेराव करने की घोषणा की। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए अजय माकन ने कहा कि हाल ही में सूरत में लाखों लोगों ने जीएसटी के विरोध में प्रदर्शन किया जिसमें न सिर्फ व्यापारी वर्ग था बल्कि कर्मचारी व आम जनता भी थी। माकन ने कहा, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने जीएसटी का विरोध इसलिए किया था क्योंकि भाजपा की केन्द्र सरकार ने जीएसटी के 6 स्लैब बनाए हैं तथा 40 प्रतिशत तक की अधिकतम सीमा है। जबकि कांग्रेस 14 प्रतिशत की अधिकतम सीमा के साथ जीएसटी लगाना चाहती थी।

उन्होंने कहा, दिल्ली के व्यापारी वर्ग की जीएसटी के कारण कमर टूट गई है और समय-समय पर दिल्ली के व्यापारी संगठन ने उनको अपनी परेशानियों से अवगत कराया है। उन्होंने कहा कि जीएसटी का असर न सिर्फ व्यापारी वर्ग पर पड़ा है बल्कि जनता भी प्रभावित हुई है। माकन ने उदाहरण देते हुए कहा कि मोदी सरकार स्कूटर तथा मर्सिडिस कार पर 28 प्रतिशत जीएसटी लगाया है। मोदी सरकार स्कूटर तथा मर्सिड्सि कार पर एक समान जीएसटी लगाये जाने को कैसे न्यायोचित साबित करेगी। दुनियाभर में जहां-जहां जीएसटी है वहां पर एक अधिकतम सीमा तय की गई है। लेकिन केन्द्र सरकार ने जीएसटी में 6 स्लैब बनाए हैं।