कोविंद को मिला सभी राज्यों का साथ


नई दिल्ली: देश के 14वें राष्ट्रपति चुने गये श्री रामनाथ कोविंद सभी राज्यों में मत हासिल करने में सफल रहे वहीं उनकी प्रतिद्वंद्वी मीरा कुमार आंध, प्रदेश में अपना खाता खोलने में विफल रहीं। राष्ट्रपति चुनाव की आज हुयी मतगणना में श्री कोविंद को कुल 4774 वैध मतों में से 2930 मत मिले जबकि श्रीमती कुमार को 1844 मत मिले। अगर मत मूल्यों के आधार पर देखा जाये तो श्री कोविंद को 702044 मत तथा श्रीमती कुमार को 367314 मत मिले। सर्वोच्च संवैधानिक पद के लिये इस चुनाव में 77 मत अवैध घोषित किये गये। इस चुनाव में सांसद और विधेयक मतदान करते हैं। सांसदों के 21 मत अवैध घोषित किये गये।

राज्यों में पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक दस और दिल्ली में छह मत अवैध करार दिये गये। सत्तारुढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार श्रीकोविंद इस गठबंधन के बाहर कई दलों का समर्थन जुटाने में सफल रहे। वह विपक्ष के घर में भी सेंध लगाने में सफल रहे। लगभग दो तिहाई मत हासिल करने में सफल रहे श्री कोविंद को केरल में सबसे कम सिर्फ एक मत ही मिला। उन्हें सांसदों के 747 वैध मतों में से 522 मत मिले। विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को आंध, प्रदेश में एक भी मत नहीं मिला। बाकी राज्यों में वह समर्थन जुटाने में सफल रहीं। उन्हें सांसदों के 225 मत मिले।

कांग्रेस सहित 17 विपक्षी दलों ने अपना उम्मीदवार बनाया था।  को मिला सभी राज्यों का साथ नई दिल्ली, देश के 14वें राष्ट्रपति चुने गये श्री रामनाथ कोविंद सभी राज्यों में मत हासिल करने में सफल रहे वहीं उनकी प्रतिद्वंद्वी मीरा कुमार आंध, प्रदेश में अपना खाता खोलने में विफल रहीं। राष्ट्रपति चुनाव की आज हुयी मतगणना में श्री कोविंद को कुल 4774 वैध मतों में से 2930 मत मिले जबकि श्रीमती कुमार को 1844 मत मिले। अगर मत मूल्यों के आधार पर देखा जाये तो श्री कोविंद को 702044 मत तथा श्रीमती कुमार को 367314 मत मिले। सर्वोच्च संवैधानिक पद के लिये इस चुनाव में 77 मत अवैध घोषित किये गये। इस चुनाव में सांसद और विधेयक मतदान करते हैं।

सांसदों के 21 मत अवैध घोषित किये गये। राज्यों में पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक दस और दिल्ली में छह मत अवैध करार दिये गये। सत्तारुढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के उम्मीदवार श्रीकोविंद इस गठबंधन के बाहर कई दलों का समर्थन जुटाने में सफल रहे। वह विपक्ष के घर में भी सेंध लगाने में सफल रहे। लगभग दो तिहाई मत हासिल करने में सफल रहे श्री कोविंद को केरल में सबसे कम सिर्फ एक मत ही मिला। उन्हें सांसदों के 747 वैध मतों में से 522 मत मिले। विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को आंध प्रदेश में एक भी मत नहीं मिला। बाकी राज्यों में वह समर्थन जुटाने में सफल रहीं। उन्हें सांसदों के 225 मत मिले। उन्हें कांग्रेस सहित 17 विपक्षी दलों ने अपना उम्मीदवार बनाया था।