डीएबी पेंशनर्स को मिलेगा कैशलेस इलाज


kejriwal

नई दिल्ली: दिल्ली विद्युत बोर्ड (डीएबी) के पेंशनर्स को कैशलेस इलाज मिलेगा, साथ ही पेंशन मिलने में होने वाली देरी से बचने के लिए पेंशन को दिल्ली बिजली नियामक आयोग के माध्यम से ट्रस्ट में जमा कराया जाएगा। यह घोषणा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली विद्युत बोर्ड (डीएबी) पेंशनर्स संगठन की 31वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में की। इस दौरान उन्होंने अपनी सरकार की पीठ थपथपाने में भी कसर नहीं छोड़ी। केजरीवाल ने कहा, दिल्ली सरकार के काम करने के तरीकों में बार-बार बाधाएं डालने के प्रयासों के बावजूद दिल्ली में 70 प्रतिशत भ्रष्टाचार कम हुआ है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार भ्रष्टाचार को पूरी तरह खत्म करना चाहती है लेकिन केंद्र सरकार ने एसीबी को छीन कर इसमें बाधा डाली है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने दिल्लीवासियों के कई लोक कल्याणकारी योजनाओं की शुरूआत की। इसमें निजी अस्पतालों में मुफ्त सर्जरी, सस्ती बिजली सहित अन्य योजनाएं शामिल हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार न तो भ्रष्टाचार करती है और न ही किसी अधिकारी को करने देंगे। इस मौके पर उन्होंने डीएबी पेंशनरों के लिए कैसलेस चिकित्सा सुविधा की शुरुआत करने की घोषणा की। केजरीवाल ने कहा कि बिजली वितरण कंपनियां समय पर पेंशन कोष में धन जमा नहीं करतीं जिससे पेंशन बांटने में विलंब होता है। इस समस्या को दूर करने के लिए जल्द ही इस कोष को दिल्ली बिजली नियामक आयोग के माध्यम से पेंशन ट्रस्ट में जमा कराया जाएगा।