दिल्ली सरकार के नए मंत्रियो की फाइल पहुंची राष्ट्रपति भवन


नयी दिल्ली : केजरीवाल सरकार में दो नये मंत्रियों को शामिल करने के फैसले की फाइल अंतिम मंजूरी के लिये राष्ट्रपति भवन पहुंच गयी है। सूत्रों के मुताबिक केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इस पर अपनी मंजूरी देकर फाइल को अंतिम मंजूरी के लिये राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पास भेज दिया है। अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में 6 मई को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में दो नये मंत्रियों को शामिल करने और एक मौजूदा मंत्री को हटाने के फैसले पर उपराज्यपाल के माध्यम से गृह मंत्रालय से मंजूरी मांगी गयी थी। इस पर दस दिन तक मंजूरी नहीं मिलने से सरकारी कामकाज में बाधा उत्पन्न होने का मुद्दा उठाते हुये केजरीवाल ने केन्द, सरकार पर जान बूझकर मंजूरी का फैसला लंबित रखने का आरोप लगाया था।

मंत्रालय के एक अधिकारी ने आज बताया कि केजरीवाल मंत्रिमंडल में फेरबदल की फाइल पर मंजूरी की सिफारिश करते हुये इसे राष्ट्रपति के पास अंतिम मंजूरी के लिये भेज दिया गया है। हालांकि मुखर्जी फिलहाल पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं। उनके कल दिल्ली वापस लौटने की संभावना का देखते हुये इस पर अंतिम मंजूरी कल या इसके बाद ही मिल सकेगी। 6 मई को केजरीवाल ने जल मंत्री कपिल मिश्रा को मंडिमंडल से हटाते हुये आप विधायकों कैलाश बहलोत और राजेन्द, पाल गौतम को मंत्री बनाने का फैसला किया था। दिल्ली सरकार में मंत्रियों की निर्धारित संख्या के आधार पर एक पद पिछले एक साल से रिक्त था। केजरीवाल सरकार ने अश्लील वीडियो मामले में तत्कालीन समाज कल्याण मंत्री संदीप कुमार को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया था।