दिल्ली के ‘लालू’ से चाहिए आजादी: कपिल


नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान सदन में पर्चे फेंकने वाले दोनों आरोपी गुरुवार को तिहाड़ जेल से रिहा हो गए। तिहाड़ से रिहा होने पर बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा ने दोनों आरोपी का स्वागत किया। साथ ही तिहाड़ से राजघाट तक रैली भी निकाली। इसके बाद दोनों युवकों ने कपिल के साथ राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि पर प्रार्थना की। युवक जगदीप राणा और राजन मदान की रिहाई से पहले ही उनके सहयोगी ने तिहाड़ जेल पर मानव श्रंखला बनाकर उनका स्वागत किया।

इस मौके पर कपिल मिश्रा भी ऑटो चालकों के साथ उपस्थित रहे। राजघाट पर दोनों युवकों के प्रार्थना के बाद कपिल ने ट्वीट कर कहा कि दोनों क्रांतिकारी युवकों ने बापू की समाधि पर दिल्ली के लालू से आजादी का संकल्प लिया। बता दें कि एक महीना पहले दिल्ली विधानसभा सदन में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के इस्तीफे की मांग करते हुए दोनों ने दर्शक दीर्घा से पर्चे फेंके थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए सदन में इनके खिलाफ प्रस्ताव पास किया गया और विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने इन्हें एक महीने की सजा सुना दी। जिसके बाद इन्हें तिहाड़ भेज दिया गया।