मेहर की रस्म पर विवाद फायरिंग और वापस लौटी बारात


पूर्वी दिल्ली: गीता कॉलोनी इलाके में मेहर की रस्म को लेकर शुरू हुआ वर और वधु पक्ष के बीच का विवाद थाने तक जा पहुंचा और बारात भी वापस लौट गई। वधु पक्ष मेहर की रस्म के लिए 50 हजार रुपए की लिखवाने के लिए कह रहा था, जबकि वर पक्ष पांच हजार रुपए लिखवाने की बात पर अड़ा रहा। देर रात मामला थाने जा पहुंचा। वहीं जश्न के दौरान बारात घर के बाहर वर पक्ष की ओर से गोलियां भी चलाईं गईं। इस मामले में पुलिस ने दूल्हे के दोस्तों को गिरफ्तार किया गया है। उनके खिलाफ आम्र्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। आरोपियों की पहचान माजिद (28) और योगेश (23) के तौर पर हुई है। उनके पास से एक अवैध पिस्टल, मैगजिन और कुछ कारतूस भी बरामद हुए हैं। उधर वधु पक्ष का आरोप है कि मेहर की रसम के दौरान दूल्हा बाइक की मांग करने लगा और दोस्तों ने डराने के लिए गोलियां चलाई। इसे लेकर वधु पक्ष ने थाने में लिखित शिकायत भी दे दी है। पुलिस दूल्हे से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

पुलिस के मुताबिक पेशे से इंटीरियर डिजाइनर और नजफगढ़ निवासी सलमान (26) का निकाह कैलाश नगर में रहने वाली युवती से तय हुआ था। वर पक्ष शनिवार रात धूमधाम से बारात भी गीता कॉलोनी स्थित बैंकेट हॉल में लेकर पहुंचा था। जश्न में दूल्हे के दोस्त फायरिंग कर रहे थे, लेकिन देर रात मेहर की रसम के दौरान दोनों पक्षों में तनातनी हो गई। वधु पक्ष की ओर से रसम में 50 हजार रुपए लिखाने के लिए बोला, जबकि वर पक्ष पांच हजार रुपए ही लिखाने की बात पर अड़ा रहा। इस बीच वधु पक्ष की ओर से किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम को कॉल कर सूचना दी कि कुछ लोग शराब के नशे में अंधाधुंध हवाई फायर कर रहे हैं। पुलिस मौके पर पहुंची तो पूरे मामले का पता चला। वधु पक्ष का आरोप है कि दूल्हा मेहर की रकम को बढ़ाने के बजाय दहेज में बाइक की मांग करने लगा। साथ ही उनका कहना है कि उसके दोस्तों ने उन्हें डराने के लिए हवाई फायरिंग की। उधर पुलिस इस थियोरी को मानने से इंकार कर रही है। पुलिस के मुताबिक जश्न के दौरान फायरिंग की जा रही थी।