उसने धोखा दिया और मैंने उसे मौत दी…


पूर्वी दिल्ली: एमएस पार्क इलाके में छात्र रिया (21) की चाकू से वारकर हत्या करने वाले सनकी युवक और उसके दो साथियों को दिल्ली की पुलिस सूचना पर मुम्बई क्राइम ब्रांच ने दबोच लिया है। आरोपियों की पहचान आदिल (25) और जुनैद के तौर पर हुई है। मुख्य आरोपी आदिल का एक साथी नाबालिग बताया जा रहा है। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह पिछले तीन वर्षों से युवती के साथ दोस्ती में था, लेकिन पिछले कुछ दिनों से युवती उसे नजरअंदाज कर रही थी। ये बात उसने अपने साथियों को बताई। उन सबने ये मान लिया कि युवती उसे धोखा दे रही है। इसके बाद उन्होंने उसे मारने की योजना बना ली और वारदात को अंजाम दे दिया। आरोपी आदिल के खिलाफ वाहन चोरी के तीन मामले दर्ज पाए गए हैं।

जिले की डीसीपी नूपुर प्रसाद ने बताया कि बुधवार शाम को आरोपी आदिल ने रिया के घर से 100 मीटर की दूरी पर उसपर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर घायल कर दिया था। देर रात इलाज के दौरान रिया की मौत हो गई। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस की 10 टीमों का गठन किया गया। जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज की मदद से हमलावर की पहचान आदिल के रूप में हुई। गठित टीमों को आरोपियों की तलाश में यूपी, गुजरात और मुंबई के अलावा अन्य जगहों पर भेजा गया। टेक्नीकल सर्विलांस व ह्यूमन इंटेलिजेंस के जरिये पुलिस आरोपी का पीछा करते हुए मुंबई पहुंच गई।

वहां मुंबई क्राइम ब्रांच को सूचना दी गई। शुक्रवार रात को मुंबई पुलिस और दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने आदिल, जुनैद व नाबालिग को बांद्रा स्थित आदिल के एक रिश्तेदार के घर से दबोच लिया।  घर नाबालिग के मामा का बताया जा रहा है। पुलिस शनिवार को दोनों को दिल्ली ले आई। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने वारदात में अपना हाथ होने की बात कबूल की। उन्होंने बताया कि युवती आदिल को धोखा दे रही थी। इसलिए आरोपियों ने पहले शाहदरा के छोटा बाजार से चाकू खरीदा। जुनैद और नाबालिग साथी ने युवती के घर के पास रेकी कर आदिल को युवती के घर से बाहर निकलने के बारे में बताया और आरोपी ने वारदात को अंजाम दे दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी अलीगढ़ भाग गए। यहां से वह मुम्बई में जाकर अपने नाबालिग साथी के रिश्तेदार के यहां रहने लगे। जहां मुम्बई क्राइम ब्रांच ने उन्हें दबोच लिया।

यूं हुई थी दोस्ती…
पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह वैन से स्कूल के बच्चों को लाता और ले जाता था। रिया के घर के पास एक बच्चा उसकी वैन में जाता था। इसी वजह से उसकी रिया से दोस्ती हुई। दोनों अक्सर बातचीत करने लगे। बातचीत के बाद आदिल को लगने लगा कि रिया उससे प्यार करने लगी है। आदिल ने रिया को महंगा एंड्रायड फोन खरीदकर दिया। लेकिन दोनों की दोस्ती का रिया के माता-पिता व भाई को पता चल गया। परिजनों ने इसका विरोध किया। रिया ने आदिल से दूरी बनाई तो वह उसे धमकाने लगा।

तो क्या लापरवाह पुलिस अधिकारियों पर गिरेगी गाज!
इस हत्याकांड से करीब तीन महीने पहले मृतका द्वारा पुलिस को दी गई शिकायत के बारे में डीसीपी से सवाल किया गया तो उन्होंने बताया कि शिकायत पर क्या कार्रवाई की गई है। इसकी रिपोर्ट मांगी गई है। इसे देखते हुए कयास लगाए जा रहे हैं कि मामले को हल्के में लेने वाले पुलिसकर्मियों पर गाज गिरना लगभग तय है।