अमरनाथ यात्रियों पर हमले के बाद दिल्ली में हाई अलर्ट


नई दिल्ली: अमरनाथ यात्रियों पर सोमवार को हुए आतंकी हमले के बाद दिल्ली में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। दिल्ली के सभी भीड़-भाड़ व व्यस्त बाजार, एयरपोर्ट, रेलवे व मेट्रो स्टेशन, बस अड्डे, भीड़ भाड़ वाले ऐतिहासिक व धार्मिक स्थल और खास तौर से कांवडिय़ों के कैंप व मार्ग पर खासी चौकसी बरतने कहा गया है। बता दें कि इससे पहले योग दिवस व ईद के मौके पर भी दिल्ली पुलिस को खुफिया इंपुट मिले थे। कहा गया था कि दिल्ली में कुछ आतंकी छिपे हो सकते हैं। जिसमें महिला भी शामिल हैं। आतंकी लंदन हमले की तर्ज पर भीड़ को निशाना बना सकते हैं।

कांवडिय़ों के लिए सतर्क पुलिस
दिल्ली में कांवडिय़ों की सुरक्षा के लिए दिल्ली पुलिस पूरी तरह से सतर्क है और विशेष चौकसी बरते हुए है। दिल्ली में करीब 800 बेस कैंप लगाने हैं। विशेष आयुक्त अमूल्य पटनायक ने उन सभी जगहों पर हर तरह की चौकसी बरतने को कहा है। उन्होंने कांवडिय़ों के कैंप के पास पर्याप्त संख्या में पुलिस बैरीकेड लगाने को कहा है ताकि कोई वाहन उस तरफ न जा सके। कैंप के बाहर पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मियों की तैनाती रखने को कहा गया है।

एमपी-5 व एके 47 से लैस होंगे जवान
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सीपी साहब ने सभी स्पेशल सीपी, ज्वाइंट सीपी व जिला पुलिस अधिकारियों को स्पष्ट कहा है कि सुरक्षा में किसी भी तरह की चूक न हो। यही वजह है कि कांवड़ कैंप पर जवान एमपी-5, एके-47, एसएलआर व एलएमजी जैसे बड़े अत्याधुनिक हथियार से लैस नजर आएंगे। जवान बुलेट प्रूफ जैकेट पहन कर तैनात होंगे। ताकि वे किसी भी स्थिति में तुरंत मोर्चा संभाल सके। कांवड़ कैंपों पर ये व्यवस्था चौबीसों घंटे रहेगी।

यमुना पार पर खास नजर
हर साल लाखों की संख्या में शिव भक्त पैदल यात्रा करते हुए गोमुख, गंगोत्री धाम और हरिद्वार से गंगा जल लेकर दिल्ली आते हैं। बहुत से लोग दिल्ली होते हुए आगे जाते हैं। ये लोग अपसरा बॉर्डर व भोपुरा बॉर्डर से दिल्ली में प्रवेश करते हैं। ऐसे में यमुनापर के उत्तर-पूर्वी, शाहदरा व पूर्वी दिल्ली जिला में सुरक्षा के खासा बंदोबस्त रखे गए हैं।

– वसीम सैफी