‘विश्व को नया रास्ता दिखाने की क्षमता है भारत के पास’


दक्षिणी दिल्ली: शक्ति के बिना शिव नहीं, जीवन की संपूर्ण कल्पना दोनों के बगैर असंभव है। हमारे देश में महिला और पुरुष को एक- दूसरे का पूरक माना गया है। देश में भ्रूण हत्या को लेकर जो समस्याएं हैं उसमें व्यक्ति को एक नया आचरण उपदेशित करना चाहिए। कोई किसी की राह न देखे, बदलाव जरूरी है क्योंकि नारी समाज का आधार है। शास्त्रों के अनुसार जहां नारी की पूजा होती वहां देवता वास करते हैं। कन्या भ्रूण हत्या सम्पूर्ण समाज की समस्या है। दहेज के स्वार्थ को लेकर लड़कियों की प्रताडऩा होनी ही नहीं चाहिए। यह संस्कारों का हनन है, प्राणी रक्षा को नियम बना कर चलने की जरूरत है। उक्त उद्गार एक निजी संस्था द्वारा असोला-फतेहपुर बेरी में आयोजित कन्या भ्रूण संरक्षण कार्यक्रम के मौके पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत ने भारी संख्या में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए।

श्री भागवत ने कहा कि संघ राष्ट्र हित के कार्यों में सदैव कधे से कंधा मिलाकर चलता रहा है, चलता है और आगे चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि भारतीय समाज धर्म पर चलने वाला राष्ट्र है। ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ कार्यक्रम की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण विश्व को नया रास्ता दिखाने की अपार क्षमता है भारत के पास। इस मौके पर कार्यक्रम के आयोजको का कहना है कि ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान को लेकर वह पिछले 21 वर्षों से लगे हुए हैं। आज 800 अनाथ बच्चियों की देखभाल कर रहा है, जिनका पिता होने का उन्हें गौरव है। उन्होंने कहा कि नारी से सृष्टि है, नारी का सम्मान राष्ट्र का सम्मान है, हमें पाश्चात्य सभ्यता को छोड़कर भारतीय संस्कृति अपनानी चाहिए। कन्या भ्रूण हत्या महापाप है। आखिर कब तक ऐसी वीभत्स घटनाएं होती रहेंगी। नारी होना गुनाह नहीं है, औरत का जीवन किसी से छिपा नहीं है।

लोग यह जानते है कि औरत के बिना जिन्दगी अधूरी है बावजूद इसके गर्भ में पल रही बड़ी संख्या में कन्याओं की हत्या कर दी जाती है। इस मौके पर छोटी-छोटी अनाथ बच्चियों द्वारा सुन्दर प्रस्तुति देखकर आरएसएस प्रमुख श्री मोहन भागवत, हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी व पंजाब के राज्यपाल बी.पी. सिंह बदनौर सहित अन्य काफी भावुक हो गए। महिला सशक्तिकरण के तहत कार्यक्रम में करीब पांच सौ विधवा महिलाओं को सिलाई मशीन व एक हजार छात्राओं को सोलर लाइट व सोलर पंखा, दिव्यांग को व्हील चेयर व ट्राई साइकिल का वितरण किया गया। इस अवसर पर आरएसएस के इन्द्रेश कुमार, वरिष्ठ भाजपा नेता श्री राम लाल, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, संतोष गंगवार, अर्जुन राम मेघवाल, सुभाष भावरे, राज्यवर्धन सिंह राठौर, गिरिराज सिंह, पी.पी. चौधरी, सी.आर. चौधरी के अलावा दर्जनों सांसदों के अलावा कार्यक्रम के सहयोगी जगत पहलवान व रामलखन लोहिया सहित अन्य उपस्थित थे।

– संजीव झा