भारत अमेरिका के होगें मजबूत संबध मोदी


नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी ने अमेरिका की अपनी यात्रा की पूर्व संध्या पर आज यहां कहा कि अमेरिका के साथ भारत के संबंध बहुस्तरीय और विविधतापूर्ण हैं और इस यात्रा से ट्रम्प प्रशासन के साथ द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूती मिलेगी। श्री मोदी ने 24 से 26 जून की अपनी अमेरिका यात्रा से पहले जारी वक्तव्य में कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ टेलीफोन पर बात की है। जिसमें परस्पर लाभ के द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने को लेकर चर्चा हुई। उन्होंने कहा है कि अपनी इस यात्रा के दौरान वह इन मजबूत सबधों पर विचार विमर्श करेंगे।

                                                                                                  source

भारत की अमेरिका के साथ साझेदारी बहुस्तरीय एवं विविधतापूर्ण हैं। इसमें सिर्फ सरकारें ही शामिल नहीं हैं बल्कि सभी संबंधित पक्ष शामिल हैं। श्री मोदी ने कहा कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति और उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगियों के अलावा अमेरिकी कंपनियों के प्रमुखों से भी मिलेंगे। श्री मोदी कल पुर्तगाल के लिए रवाना हो रहे हैं जहां से वह रात में अमेरिका जायेंगे। भारत और अमेरिका के बीच लगभग 150 अरब डॉलर का द्विपक्षीय व्यापार होता है। अमेरिका की कई बड़ी कंपनियां भारत में लंबे समय से जमी हुई हैं।

                                                                                               source

श्री मोदी ने कहा कि पुर्तगाल के साथ हमारे ऐतिहासिक और मित्रतापूर्ण संबंध रहे हैं और इस वर्ष जनवरी में वहां के प्रधानमंत्री एंतोनिया कोस्टा की भारत यात्रा के दौरान इन्हें और गति मिली है। अपनी पुर्तगाल यात्रा के दौरान वह श्री कोस्टा के साथ विभिन्न क्षेत्रों में संयुक्त पहल के बारे में हुई प्रगति की समीक्षा करेंगे। इसके साथ ही आर्थिक सहयोग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तथा अंतरिक्ष के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर भी विचार होगा।

                                                                                                 source

श्री मोदी ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ सहयोग तथा अन्य अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर भी विचार विमर्श किया जायेगा। उन्होंने कहा कि 27 जून को वह नीदरलैंड में रहेंगे। दोनों देश राजनयिक संबंधों के 70 वर्ष पूरे होने का जश्न मना रहे हैं। वहां वह प्रधानमंत्री मार्क रूट तथा सम्राट विलेम एलेक्जेंडर के साथ मुलाकात करेंगे।