कपिल ने की विस का विशेष सत्र रामलीला मैदान में बुलाने की मांग


नयी दिल्ली : दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन के भ्रष्टाचार, हवाला, कालेधन, विदेश यात्राओं और नजदीकी रिश्तेदारों को लाभ पहुंचाने के आरोपों पर जनता दरबार में चर्चा के लिये रामलीला मैदान में विशेष बुलाने की मांग की है।

कपिल ने लिखा विधानसभा अध्यक्ष को पत्र
आम आदमी पार्टी (आप) से निष्कासित विधायक ने आज विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को पत्र लिखा है, जिसमें रामलीला मैदान में विशेष सत्र बुलाने और व्हीप की बाध्यता नहीं रखने की मांग की है। श्री केजरीवाल ने सरकार बनने से पहले विधानसभा का सत्र जनता के बीच कराने की वकालत की थी। मुख्यमंत्री का इसके पीछे तर्क था कि जब हजारों लोग मौजूद होंगे तब नेता झूठ बोलने की हिम्मत नहीं कर सकता।

करावल नगर से विधायक ने लिखा है कि हवाला, काले धन और विदेश यात्राओं के मामले प्रत्यक्ष रूप से देश से जुड़े हुए हैं। इन मामलों में सदन में चर्चा और वोटिंग जरूरी है। उन्होंने कहा कि इन मामलों में जुड़े सारे दस्तावेज रामलीला मैदान में जनता की मौजूदगी में सदन के पटल पर रखूंगा। श्री केजरीवाल अगर ईमानदार हैं और उन्हें श्री जैन की बेगुनाही पर भरोसा है तो इस प्रस्ताव को स्वीकार कर खुले में सत्र बुलायें। सत्र में वोटिंग के लिये व्हीप की बाध्यता नहीं रखी जाये।