लालू की बेटी मीसा और दामाद पर ED का शिकंजा, दिल्ली के 3 ठिकानों पर रेड


नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के परिवार पर सीबीआई और ईडी का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। उनके घर और ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी के महज 24 घंटों के भीतर बेटी मीसा भारती के तीन ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय (ED)ने छापा मारा है।

Source

इसके तहत दिल्‍ली के सैनिक फार्म इलाके में स्थित फार्म हाउस, बिजवासन और घिटोरनी में उनके ठिकानों पर प्रवर्तन निदेशालय ने छापा मारा है। मनी लांड्रिंग केस में यह छापेमारी की गई है। उनके सैनिक फार्म हाउस की कीमत 50 करोड़ मानी जाती है और यह 2.8 एकड़ में फैला हुआ है।


बेनामी संपत्ति के मामले में भी घिरी बेटी मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार 21 जून को आयकर विभाग के सामने पेश हुए थे। दोनों से करीब छह तक पूछताछ हुई।

Source

उससे पहले 20 जून को एक बड़ी कार्रवाई में आयकर विभाग ने दिल्ली से पटना तक लालू प्रसाद यादव के परिवार की कई बेनामी संपत्तियां ज़ब्त कीं, जिनमें लालू की पत्नी राबड़ी देवी, उनके पुत्र तेजस्वी यादव, पुत्री मीसा भारती, दामाद शैलेश कुमार और लालू की अन्य दो बेटियों रागिनी और चंदा यादव की बेनामी संपत्तियां शामिल हैं।

एक दिन पूर्व ही लालू के पटना स्थित आवास पर सीबीआई ने छापेमारी की थी

आपको बता दें कि एक दिन पूर्व ही आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के पटना स्थित आवास पर सीबीआई ने छापेमारी की थी। लालू यादव पर आरोप है कि रेल मंत्री रहते हुए उन्होंने होटल आवंटन में भ्रष्टाचार किया। छापेमारी के बाद सीबीआई ने लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और उनके बेटे तेजस्वी यादव पर धोखाधड़ी और आपराधिक साजिश रचने का केस दर्ज किया।

मैं डरने वाला नहीं हूं: लालू

वहीं, लालू प्रसाद यादव ने छापेमारी की कार्रवाई को राजनीतिक साजिश बताया। लालू यादव ने सीबीआई की रेड के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा उनके खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और आरएसएस के इशारे पर सियासी साजिश की जा रही है। लालू यादव ने कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। लालू यादव ने कहा कि इस तरह की छापेमारी से वो डरने वाले नहीं हैं।