पूर्वी दिल्ली: पूर्वी दिल्ली के व्यस्त इलाकों में व उसके आसपास बनें अवैध पार्किंग के कारण जाम व लूटपाट की घटना बढ़़ रहे हैं, जिसकी वजह से राहगीरों व वाहन चालकों को समस्या का सामना करना पड़ता है। लोगों ने पुलिस अफसरों व एमसीडी से अवैध पार्किंग रोकने और फुटपाथ का अतिक्रमण हटाए जाने की मांग की है। पूर्वी दिल्ली के कई इलाके सबसे भीड़भाड़ वाला माना जाता है जिनमेंं लक्ष्मीनगर, शकरपुर, मंडावली, गणेश नगर, पांडव नगर, विनोद नगर, गांधी नगर, कैलाश नगर, शास्त्री पार्क, खुरेजी आदि इलाकें शामिल है। इन इलाकों से गुजरने पर लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

सड़क किनारे स्थित दुकानदार फुटपाथ वाले हिस्से को शोरूम के रूप में इस्तेमाल करते हैं। दुकान की आधी सामग्री फुटपाथ पर सजाकर रख दी जाती है। इसके बाद फेरी लगाने वाले छोटे कारोबारी सड़क किनारे अपनी दुकान लगाकर दिनभर कारोबार किया करते हैं, इससे सड़क का काफी हिस्सा घिर जाता है। इसके बाद खरीददार सड़क पर वाहन खड़ा करके खरीदारी में मशगूल हो जाते हैं, इससे सड़क के दोनों ओर जबरदस्त अतिक्रमण हो जाता है। ऐसे में पैदल चलने वाले लोग सड़क के बीच से होकर गुजरने को मजबूर होते हैं। वाहन चालकों के लिए आवागमन की जगह न के बराबर बचती है।

वहीं दूसरी ओर इन अवैध पार्किंग के कारण चोरों व पाकेटमारों की चांदी होती है। ये इन भीड़ का फायादा उठाकर लोगों के पॉकेट पर हाथ साफ कर लेते हैं व किमती सामान छीन ले जाते हैं। यहां गाडिय़ों की इतनी भीड़ होती है कि लोग इन्हें पकड़ भी नहीं सकते है। ये चोर लोगों से सामान छिनकर भाग जाते है। इन अतिक्रमण पर स्थानीय लोगोंं ने पुलिस व एमसीडी से शिकायत की है पर इस पर कोई सुनवाई नहीं हुई है। लोग आज भी प्रशासन की बाट जोह रहे हैं कि आखिर प्रशासन कब तक इस समस्या से निजात दिलाएगा।