ममता ने एयर इंडिया और जल्दबाजी में जीएसटी लागू करने को लेकर मोदी सरकार आलोचना की


MAMTA

पूर्ब बर्द्धमान : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया के निजीकरण के प्रयास और जल्दबाजी  में जीएसटी लागू करने को लेकर मोदी सरकार की आलोचना की और कहा, हम इसका समर्थन नहीं करते।  उन्होंने यहां एक जनसभा में कहा, वे (केन्द्र) एयर इंडिया को पूरी तरह से बेचने का प्रयास कर रहे हैं। एयर इंडिया राष्ट्रीय गौरव है। हम इसका समर्थन नहीं करते। केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने कल संकटग्रस्त एयर इंडिया के विनिवेश को मंजूरी दी थी।

उन्होंने दावा किया, केन्द, भारतीय चाय बोर्ड के मुख्यालय को कोलकाता से स्थानान्तरित करने का प्रयास भी कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के परोक्ष लेकिन जाहिर संदर्भ में उन्होंने आरोप लगाया, लोकतंत्र का दम घोंटने का प्रयास हो रहा है। देश में तानाशाही है। वे सोचते हैं कि वे हमेशा शासन करेंगे।  उन्होंने कहा, अगर केाई विरोध के स्वर उठाता है तो आयकर और सीबीआई जैसी केन्द्रीय एजेंसियों को पीछे छोड़ दिया जाता है। यहां तक कि मीडिया को भी बख्शा नहीं जाता।

लेकिन मैं इससे नहीं डरती। हम जनता के साथ हैं।  ममता ने कहा,कोई डर के कारण केन्द, की नीतियों का विरोध नहीं करता।लेकिन किसी को आवाज उठानी होगी। मैं यह करूंगी।  उन्होंने  जल्दबाजी में जीएसटी लागू करने पर  भी केन्द, की निंदा की। उन्होंने कहा, हम जीएसटी के समर्थन में थे। लेकिन उन्होंने कई चीजें बदल दीं। दवा आदि पर उन्होंने कर लगा दिया। हमने उनसे इसे जल्दबाजी में लागू नहीं करने को कहा। लेकिन उन्होंने इस पर ध्यान नहीं दिया।  ममता ने कल कहा था कि तृणमूल कांग्रेस 30 जून की मध्यरात्रि को जीएसटी लागू करने के कार्यक्रम में भाग नहीं लेगी।