डॉक्टर अपहरण मामले में मर्चेंट नैवी इंटर्न अरेस्ट


पूर्वी  दिल्ली: प्रीत विहार इलाके से पांच करोड़ की फिरौती के लिए अगवा किए गए डॉ. श्रीकांत (29) के मामले में पुलिस के हाथ एक और कामयाबी लगी है। दिल्ली पुलिस और एसटीएफ की संयुक्त टीम ने इस पूरे षड्यंत्र में शामिल विवेक मोटला उर्फ मोदी (20) को गिरफ्तार कर लिया है। जांच के दौरान खुलासा हुआ आरोपी गुजरात में मर्चेंट नैवी में इंटर्नशिप भी कर रहा था, लेकिन वह महंगी बाइक के लालच में इस साजिश में शामिल हो गया था। आरोपी को मेरठ के वैशाली बस स्टैंड से दबोचा गया है। आरोपी के पास एक देसी कट्टा भी बरामद हुआ है। यूपी पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है। बता दें कि डॉ. श्रीकांत गत छह जुलाई  को घर जाने के लिए प्रीत विहार मेट्रो स्टेशन पहुंचे थे। लेकिन देर रात की आखिरी ट्रेन छूट चुकी थी।

जिन्दगी में पहली बार उन्होंने ओला कैब बुक की। कार चालक ने कुछ दूर जाने के बाद अन्य साथियों के साथ उसे दूसरी कार में बंधक बना किडनैप कर लिया। अगले दिन तड़के बदमाशों ने ओला कंपनी को कोल कर पांच करोड़ रुपए की फिरौती मांगी थी। इस मामले में पुलिस ने गत 19 जुलाई को मुठभेड़ के बाद पुलिस ने चार आरोपियों प्रमोद, नेपाल, अमित और सोमवीर को गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि इस वारदात के मास्टरमाइंट दादरी के रहने वाले दो सगे भाई सुशील और अनुज के अलावा गौरव व विवेक की तलाश में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। इसी छापेमारी में प्रीत विहार थाने के एसएचओ मनिंदर सिंह के नेतृत्व में गठित कांस्टेबल राजबीर, कपिल, संदीप दहिया और एसटीएफ की संयुक्त टीम ने आरोपी को मंगलवार सुबह मेरठ के वैशाली बस स्टैंड से दबोच लिया।

– कुणाल कश्यप