अपनों से जूझना पड़ता है लेकिन केजरी का मिलता है साथ: तंवर


नई दिल्ली: कहते हैं सत्ता के आगे अच्छे-अच्छे नतमस्तक हो जाते हैं, बड़े-बड़े तुर्रमखां अपना मिजाज बदल लेते हैं ऐसा ही कुछ देखने को मिला नई दिल्ली नगर पालिका परिषद के एक कार्यक्रम में। जहां भाजपा के 6 बार के विधायक और एनडीएमसी के उपाध्यक्ष करण सिंह तंवर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नाम की माला जपते नजर आए। इस दौरान तंवर ने यह भी कह डाला कि कई बार उन्हें अपने लोगों का साथ नहीं मिलता लेकिन काउंसिल के मीटिंग में कई बार अरविंद केजरीवाल ने उनका साथ दिया है। दरअसल, नई दिल्ली पालिका परिषद् (एनडीएमसी) में कर्मचारियों के आवासीय परिसरों को स्मार्ट बनाने के कार्य का शिलान्यास हो रहा था। यहां मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपाध्यक्ष करण सिंह तंवर भी मौजूद थे। उपाध्यक्ष करण सिंह तंवर भाजपा के नेता हैं और वह छह बार विधायक भी रह चुके हैं। यहां उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केजरीवाल की तारीफों के पुल बांध दिए।

तंवर ने कहा कि मैं 6 बार विधायक रहां हूं, उससे पहले निगम पार्षद था और उसके बाद कैंटोनमैंट बोर्ड का सदस्य रहा। उसके बाद मैं आज एनडीएमसी के उपाध्यक्ष तक पहुंचा हूं। उन्होंने कहा कि मैं यहां तक गरीब, बेसहारा, जरूरतमंद की सेवा करके पहुंचा हूं। वहीं हमदर्दी मुझे केजरीवाल में नजर आती है। उन्होंने कहा कि दूर से हम देखते हैं की अखबारों में क्या छप रहा है, टेलिविजन में क्या दिखाया जा रहा उसको देखकर किसी की सख्शियत पर अंदाजा लगाया जाता है। लेकिन जब वह किसी के पास होता, हमारी काउंसिल की मीटिंग होती है, तो मुझे गर्व और खुशी के साथ कहना पड़ रहा है कि कई बार तो मुझे मेरी पार्टी से जूझना पड़ता है, लेकिन केजरीवाल गरीबों की मदद करने के लिए मेरे प्रपोजल पर अड़ जाते हैं। उन्होंने कहा कि यहां पर मुझे जूझना पड़ता है अपनो से, लेकिन केजरीवाल जी मदद करते हैं।

धोबी घाट के मुद्दे पर उन पर गरीबों पर करोड़ो रुपए बकाए पर माफ करने की मांग की तो केजरीवाल ने मेरा साथ दिया। क्योंकि बकाया होने की वजह से उनका कभी पानी का कनेक्शन कटता हैं तो कभी बिजली का। बता दें कि केजरीवाल और भाजपा की लड़ाई किसी से छिपी नहीं है। लेकिन करण सिंह तंवर से जहां केजरीवाल खेमा खुश हैं तो वहीं भाजपा नेता इससे नाराज है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक पूरा मामला आलाकमान के नजर में आ गया। इस पर जल्द ही कार्रवाई भी की जा सकती। सूत्रों के मुताबिक भाजपा की ओर से तंवर को कारण बताओ नोटिस जारी किया जा सकता है।