लॉ डिपार्टमेंट में आज से स्थायी नियुक्ति


पश्चिमी दिल्ली: डीयू के लॉ डिपार्टमेंट में आज से टीचर्स की स्थायी नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो जा रही है। यहां सहायक प्रोफेसर के पदों के लिए साक्षात्कार लिया जाएगा। यह प्रक्रिया कई दिनों तक चलेगी। डीयू एकेडमिक काउंसिल के सदस्य प्रो. हंसराज सुमन ने बताया कि डीयू के विधि विभाग में विभिन्न पदों के लिए साक्षात्कार की प्रक्रिया आज से शुरू हो रही है। इसके पीछे उच्च न्यायालय का आदेश भी माना जा रहा है।

हाईकोर्ट ने कहा था कि लंबे समय से डीयू में स्थायी शिक्षकों की नियुक्तियां नहीं होने से शिक्षा पर बुरा असर पड़ रहा है। इसके अलावा विभागों और कॉलेजों में लगातार तदर्थ शिक्षकों की संख्या बढ़ती जा रही है। विवि के विभिन्न विभागों में 911 पदों को भरा जाना है, जबकि कॉलेजों में 4500 से अधिक पदों पर नियुक्ति की जानी है। उन्होंने बताया कि डीयू से संबद्ध कॉलेजों से हर महीने 20 से 30 शिक्षक सेवानिवृत्त हो रहे हैं। उनकी जगह तदर्थ शिक्षकों को लगाया जा रहा है। यही वजह है कि विधि विभाग में 126 शिक्षकों के रिक्त पदों को भरा जा रहा है। इन पदों में सामान्य के 63, एससी के18, एसटी के 09, ओबीसी के 35 और 1 पद पीडब्ल्यूडी का है।

प्रो. सुमन ने बताया कि डीयू प्रशासन द्वारा 41 विभागों में पिछले दिनों जो विज्ञापन निकाले गए, उसमें सबसे ज्यादा पद विधि विभाग के हैं। डीयू ने उच्च न्यायालय में कहा है कि यह नियुक्ति की प्रक्रिया सभी पदों पर भर्ती न होने तक लगातार चलती रहेगी। वैसे कॉलेजों में नियुक्ति की प्रक्रिया अप्रैल के पहले सप्ताह से शुरू करके जुलाई तक पूरा कर देने की बात कही गई थी। प्रो. हंसराज ने नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू करने पर कुलपति प्रो. योगेश कुमार त्यागी को बधाई दी है।