राष्ट्रपति चुनाव : मीरा कुमार होंगी विपक्ष की उम्मीदवार


नयी दिल्ली : राष्ट्रपति चुनाव के लिए यूपीए ने आज पूर्व लोकसभाध्यक्ष और दलित नेता मीरा कुमार को अपना राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया। पूर्व राजनयिक मीरा कुमार जानेमाने नेता दिवंगत जगजीवन राम की पुत्री हैं। 17 विपक्षी दलों ने आज एक बैठक में सर्वसम्मति से मीरा कुमार का नाम चुना।

                                                                                            Source

कोविंद के भी दलित समुदाय से आने के कारण इस बार राष्ट्रपति चुनाव दलित बनाम दलित हो गया है। राष्ट्रपति उम्मीदवार चुनने के लिए संसद भवन में विपक्ष की हुई बैठक में मीरा कुमार का नाम तय हुआ | बैठक में 17 विपक्षी दलों के नेताओं ने भाग लिया | एनसीपी के शरद पवार ने मीरा कुमार के नाम का प्रस्ताव रखा | विपक्ष का कहना है कि वे सेकुलर दलों से मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील करेगा | मीरा कुमार 27 जून को नामांकन भरेंगी |

                                                                                            Source

कांग्रेस से राष्ट्रपति पद के उमीदवार की बैठक में  सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, अहमद पटेल, गुलाम नबी आज़ाद, एके एंटनी, मल्लिकार्जुन खड़गे, बीएसपी से सतीश मिश्रा, टीएमसी से डेरेक ओ ब्रायन, केरल कांग्रेस से जॉर्ज मनी, समाजवादी पार्टी से रामगोपाल यादव, नरेश अग्रवाल, आरएलडी से अजीत सिंह, नेशनल कॉन्फ़्रेंस से उमर अब्दुल्ला, एनसीपी से शरद पवार, प्रफुल्ल पटेल, तारिक अनवर, सीपीएम से सीताराम येचुरी, सीपीआई से डी राजा, आरएसपी के प्रेमचंद्रन, डीएमके से कनिमोझी, जेएमएम से हेमंत सोरेन, जेडीएस से दानिश अली खान, ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट प्रतिनिधि, मुस्लिम लीग कुंजली कुट्टी, आरजेडी से लालू और जयप्रकाश नारायण यादव बैठक में शामिल हुए |

                                                                                            Source

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, हमने मीरा कुमार को राष्ट्रपति चुनाव में उतारने का फैसला किया है हमें उम्मीद है कि अन्य दल भी हमारे साथ आएंगे। वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मीरा कुमार के नाम को सर्वसम्मति से चुना गया। राकांपा नेता शरद पवार ने तीन नामों का प्रस्ताव किया।

                                                                                             Source

इनमें मीरा कुमार के अलावा पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री सुशीलकुमार शिंदे तथा राज्यसभा सदस्य भालचंद, मुंगेकर के नाम शामिल थे। दोनों महाराष्ट्र के दलित नेता हैं। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने महात्मा गांधी के पौत्र गोपालकृष्ण गांधी तथा बी आर अंबेडकर के पौत्र प्रकाश अंबेडकर के नामों का प्रस्ताव किया।