जमाखोरों के कारण प्याज की कीमत बढी: रामविलास


ramvilas

नई दिल्ली :  केंद्रीय खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान ने आज कहा कि प्याज की कीमतें बढऩे के पीछे जमाखोरों और बिचौलियों का हाथ है। राज्य सरकारों को ऐसे लोगों के साथ कड़ाई से निपटने के लिए कहा गया है। श्री पासवान ने ट्िवट कर कहा कि बाजार में प्याज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है लेकिन जमाखोरों और बिचौलियों के कारण प्याज की कीमतें बढी है। देश में प्याज की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता बनाए रखने के लिए इसके निर्यात पर प्रोत्साहन योजना को समाप्त करने का भी अनुरोध वाणिज्य मंत्रालय से किया गया है।

श्री पासवान ने कहा कि वाणिज्य मंत्रालय से प्याज का न्यूनतम निर्यात मूल्य 450 अमेरिकी डालर प्रति टन निर्धारित करने का अनुरोध किया गया है। देश में इस वर्ष प्याज का उत्पादन लगभग 215 लाख टन हुआ है जबकि गत वर्ष प्याज का उत्पादन 209 लाख टन ही था। उल्लेखनीय है कि हाल में प्याज की खुदरा कीमत पचास रुपये प्रति किलों तक पहुंच गयी थी। मदर डेयरी के फल एवं सब्जी केन्द्रों पर भी प्याज का मूल्य 40 रुपये प्रति किलो के आसपास पहुंच गया था।