तीन माह का हिसाब मांगेंगे सिसोदिया


sisodiya

नई दिल्ली: दिल्ली के बजट की तिमाही पर दिल्ली सरकार अधिकारियों और विभागों से हिसाब मांगने जा रही है। इसको लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व वित्तमंत्री मनीष सिसोदिया ने सभी मंत्रियों को पत्र लिखा है और इसमें तीन माह में हुए कामों की समीक्षा करने की बात कही है। इसमें सरकार की प्राथमिकता पर जो काम थे, वह पूरे हुए या कहां तक पहुंचे उस पर चर्चा की जाएगी। बता दें दिल्ली सरकार का वर्ष 2017-18 का बजट आउटकम बजट के रूप में पेश किया गया था।

इसमें विभागों को बजट के प्रति जवाबदेह बनाया गया था। इसमे विभागों की जिम्मेदारी थी कि जो बजट की राशि जिस काम के लिए आंवटित की गई है, उस पर कितना काम कहा तक पहुंचा इसको लेकर हर तिमाही में समीक्षा होगी। इसमें असफल होने पर विभागों और जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई भी की जाएगी। चिट्टी में 19 से 21 तक का समीक्षा के लिए समय दिया गया। मंत्रियों द्वारा विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा के लिए समय भी लिख कर दिया।

साथ ही विभागों द्वारा प्राथमिकता के आधार पर किए जाने वाले कामों की संख्या भी बताई है। इन कार्यों कि क्या गति है काम कहा तक पहुंचा इस पर चर्चा की जाएगी। मनीष सिसोदिया और कैलाश गहलोत 19 तारीख को अपने विभागों द्वारा किए जाने वाले कामों की समीक्षा करेंगे। तो वहीं स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन 20 जुलाई को समीक्षा करेंगे। इसके आलावा इमरान हुसैन, कैलाश गहलोत, गोपाल राय और राजेन्द्र पाल गौतम 20 जुलाई को समीक्षा करेंगे।