28 कॉलेजों के सीएजी ऑडिट के लिए सिसोदिया ने लिखा पत्र


sisodiya

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार के फंड से चलने वाले 28 कॉलेजों का फंड रोकने के बाद दिल्ली सरकार ने इन सभी कॉलेजों के सीएजी ऑडिट कराने की सिफारिश की है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने सीएजी प्रमुख शशिकांत शर्मा को पत्र लिखकर ऑडिट कराने की मांग की है। इसके साथ ही कॉलेजों में वित्तीय गड़बड़ी की शिकायत वाला भाजपा सांसद उदित राज का लेटर भी सिसोदिया ने सार्वजनिक किया है। अपने पत्र में सिसोदिया ने सीएजी को वर्ष 2016-17 और वित्त वर्ष 2017-18 का सीएजी ऑडिट करने की मांग की है। सिसोदिया ने कहा, पिछले दस माह से दिल्ली सरकार पब्लिक के टैक्स के पैसे से चलने वाले कॉलेज में गवर्निंग बॉडी गठन की मांग कर रही है।

इसके लिए कई बार पत्र व्यवहार डीयू से हो चुका है, लेकिन इसके बावजूद भी डीयू ने गवर्निंग बॉडी का गठन नहीं किया। सिसोदिया ने कहा कि पिछले दस माह से यह कॉलेज बिन गवर्निंग बॉडी के चल रहे हैं, ऐसे में इन कॉलेजों में वित्तीय अनिमियता होने की संभावनाएं हैं। उन्हें खुद भाजपा सांसद उदित राज ने दिल्ली के इन कॉलेजों में अपाइनमेंट में गड़बड़ी की शिकायत की थी। सिसोदिया ने कहा, वर्ष 2016-17, 2017-18 में जारी फंड का ऑडिट होने के साथ कॉलेजों में एडहॉक और परमानेंट अपाइनमेंट की प्रक्रिया का ऑडिट और कॉलेजों में डीयू की विभिन्न संचालन के द्वारा लिए गए फैसलों का भी ऑडिट होना चाहिए।