युवक ने थाने में लगाई फांसी


Suicidal

बाहरी दिल्ली: उत्तर-पश्चिमी जिले के जहांगीरपुरी थाने में संदिग्ध हालात में एक युवक बाथरूम के रोशनदान में फंदे से लटका मिला। मृतक की पहचान राजकुमार (32) के रूप में हुई है। एक महिला के गायब होने पर उसके पति ने राजकुमार पर गायब करने का शक जताया था। पुलिस ने मंगलवार को ही राजकुमार को कासगंज-एटा, यूपी से पूछताछ के लिए बुलाया था। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि राजकुमार ने फांसी लगा ली। वहीं मृतक के परिजनों ने उस पर थर्ड डिग्री इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है। मामले की गंभीरता के मद्देनजर न्यायिक जांच मजिस्ट्रेट और एसडीएम कर रहे हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। गुरुवार को मेडिकल बोर्ड के जरिये राजकुमार के शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

पुलिस के मुताबिक राजकुमार सपरिवार गांव बिकोरा, कासगंज-एटा, उत्तर प्रदेश में रहता था। इसके परिवार में मां, चार भाई कृष्ण मुरारी, अजय, हृदेश और प्रदीप हैं। भाईयों में राजकुमार चौथे नंबर का था। पिछले दिनों एक महिला के गायब होने की तफ्तीश करते हुए जहांगीरपुरी थाना पुलिस राजकुमार के गांव पहुंची थी। उस समय राजकुमार मथुरा आया था। पुलिस ने परिजनों को बताया कि महिला के पति ने राजकुमार पर उसे गायब करने का शक जताया है। यदि वह जांच में शामिल नहीं होगा तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज हो जाएगा। उसे पूछताछ में शामिल होना पड़ेगा। इसके बाद राजकुमार ने जहांगीरपुरी थाने के आईओ हिमांशु से संपर्क किया। मंगलवार दोपहर को वह दिल्ली आया और पूछताछ में शामिल होने के लिए तीन बजे थाने पहुंच गया।

बताया जाता है कि पूछताछ के दौरान देर रात राजकुमार बाथरूम गया था, जहां से पुलिस को उसका शव रोशनदान से लटका मिला। युवक के थाने में फांसी लगाने की सूचना मिलते ही जिले के आलाधिकारियों में हड़कंप मच गया। इधर परिजनों के पास कासगंज सुबह फोन कर बताया गया कि राजकुमार की तबीयत खराब है, बाबू जगजीवन राम अस्पताल आकर उसे देख लो। परिजनों ने दिल्ली में रहने वाले रिश्तेदार अंकित पचौरी से राजकुमार का हाल लेने के लिए कहा। अंकित को थोड़ी ही देर में पुलिस से पता चला कि राजकुमार ने मंगलवार रात जहांगीरपुरी थाने के टॉयलेट में नौ फुट ऊंचे रोशनदान की ग्रिल में गमछे से फंदा बनाकर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। अंकित ने ही परिजनों को राजकुमार की मौत की सूचना दी।