डोकलाम में न लड़ाई, न शांति की दशा में भारतीय सेना


भारत और चीन के बीच डोकलाम को लेकर बढ़ते तनाव के बीच तीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि युद्ध का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। वहीं दूसरी और आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय सेना डोकलाम में ‘न लड़ाई, न शांति’ की दशा में है और इलाके में यथास्थिति बनी हुई है। डोकलाम के लिए और अधिक सैनिक भेजने की रिपोर्ट पर सूत्र ने बताया कि भारत-भूटान-चीन ट्राई-जंक्शन में जवानों की संख्या नहीं बढ़ाई गई है।

भारत-चीन के बीच ये गतिरोध करीब 50 दिन पहले तब शुरू हुआ था जब सिक्किम सेक्टर में भारतीय जवानों ने चीनी सेना को सड़क निर्माण से रोक दिया था। इसके बाद चीन लगातार दावे कर रहा है कि वह अपने सीमा क्षेत्र में सड़क बना रहा है। चीन की तरफ से लगातार ये धमकियां दी जा रही हैं कि भारत वहां से अपने जवानों को हटाए। चीनी विदेश मंत्रालय के हवाले से एक सरकारी अखबार में कहा गया है कि डोकलाम इलाके में भारत के 53 सैनिक और एक बुलडोजर मौजूद है।

इससे पहले चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चेंग शुआंग ने पिछले हफ्ते कहा था कि डोकलाम इलाके में दो अगस्त तक भारत के 48 सैनिक और एक बुलडोजर था। चेंग ने कहा था कि सरहद पर भारतीय क्षेत्र में अब भी बड़ी संख्या में भारतीय सशस्त्र बल जमा हैं। वहीं सूत्रों ने चीनी दावों को खारिज करते हुए पिछले हफ्ते कहा था कि पिछले छह हफ्तों से डोकलाम में भारतीय सेना के 350 जवान तैनात हैं।