जम्मू & कश्मीर में जबरदस्त शीतलहर का दौर आज भी जारी रहा और पारा जमाव बिंदु से कई डिग्री नीचे बना रहा। हालांकि अगले कुछ दिन में क्षेत्र में शुष्क मौसम का दौर खत्म होने की संभावना है।

मौसम विज्ञान विभाग ने कल कश्मीर में कहीं बारिश तो कहीं हिमपात होने तथा सोमवार को व्यापक बारिश का पूर्वानुमान जताया है। अगर पूर्वानुमान सही रहा तो उम्मीद है कि इससे इस बार की सर्दी में शुष्क मौसम का दौर खत्म हो जायेगा।

मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान शून्य से 8.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। लद्दाख क्षेत्र के करगिल में पारा तीन डिग्री अधिक चढ़कर शून्य से 15 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। उन्होंने बताया कि करगिल लगातार राज्य का सबसे ठंडा स्थान बना हुआ है, जबकि निकटवर्ती लेह शून्य से 11.2 डिग्री सेल्सियस कम तापमान के साथ दूसरा सबसे ठंडा स्थान रहा।

उन्होंने बताया कि जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में बीती रात न्यूनतम तापमान शून्य से 5.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि काजीगुंड में तापमान शून्य से 4.8 डिग्री सेल्सियस नीचे, निकटवर्ती कोकरनागर में शून्य से 2.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। अधिकारी ने बताया कि कुपवाड़ा में बीती रात न्यूनतम तापमान शून्य से 5.2 डिग्री सेल्सियस नीचे, पहलगाम में तापमान शून्य से 5.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

सर्दी का मौसम शुरू होने के बाद से ही कश्मीर में शुष्क मौसम एवं जबरदस्त शीतलहर का दौर चल रहा है, जिससे बुजुर्गों एवं बच्चों को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें हो रही हैं। कश्मीर इस वक्त चिल्लई कलां की गिरफ्त में है। 40 दिन तक चलने वाली जबरदस्त ठंड की यह अवधि 31 जनवरी को खत्म होने वाली है। हालांकि इसके बाद भी राज्य में शीतलहर का दौर जारी रहेगा।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करे।