अर्थशास्त्री राजीव कुमार बने नीति आयोग के नए उपाध्यक्ष


नीति आयोग के नए उपाध्यक्ष के तौर पर अर्थशास्त्री डॉ. राजीव कुमार का नाम शनिवार रात को तय किया गया। निवर्तमान उपाध्यक्ष अरविंद पनगढिया के वापस अकादमिक क्षेत्र में लौटने की घोषणा के पांच दिन बाद यह फैसला लिया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक,  सरकार ने एम्स में शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ विनोद पॉल को नीति आयोग का सदस्य नियुक्त किया है।

ऑक्सफोर्ड से अर्थशास्त्र में डीफिल और लखनऊ विश्विवद्यालय से पीएचडी कर चुके कुमार सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च (सीपीआर) में वरिष्ठ फेलो हैं। वह पहले फिक्की के महासचिव थे और इंडियन कौंसिल फोर रिसर्च ऑन इंटरनेशनल इकोनॉमिक्स रिलेशन (आईसीआरआईईआर) के चीफ एक्जीक्यूटिव भी रह चुके हैं।

वह 2006-2008 के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड के सदस्य रह चुके हैं। वह भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के मुख्य अर्थशास्त्री भी रहे हैं और एशियाई विकास बैंक, भारतीय उद्योग मंत्रालय और वित्त मंत्रालय में भी महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। राजीव कुमार कई अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय संस्थानों के बोर्ड के सदस्य भी हैं जिसमें रियाद में किंग अब्दुल्ला पेट्रोलियम स्टडीज एंड रिसर्च सेंटर, जकार्ता में इकोनॉमिक रिसर्च इंस्टिट्यूट फोर आसियान एंड एशिया, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और भारतीय विदेश व्यापार संस्थान का नाम शामिल है।

बता दें कि अरविंद पनगढिया ने 1 अगस्त को घोषणा की थी कि वह 31 अगस्त को नीति आयोग से हट जाएंगे और वापस कोलंबिया विश्वविद्यालय जाएंगे जिसके बाद नीति आयोग के उपाध्यक्ष के पद के लिए नियुक्ति जरूरी हो गई थी।