बिजली की मांग 11,466 मेगावाट से ऊपर पहुंची


Lightning

जबलपुर: मध्यप्रदेश में नवंबर महीने में पहली बार बिजली की मांग 11,466 मेगावाट से ऊपर पहुंची। एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक संजय कुमार शुक्ल ने बताया कि बिजली की मांग की बढ़त्तरी का मुख्य कारण प्रदेश में रबी सीजन में किसानों को 10 घंटे गुणवत्तापूर्ण और निर्बाध बिजली की आपूर्ति है। इसके साथ ही प्रदेश के सभी बिजली उपभोक्ताओं को रोशनी के लिए 24 घंटे बिजली की आपूर्ति भी की जा रही है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में 11 नवंबर को बिजली की मांग 11,466 मेगावाट के शखिर पर पहुंच गई और बिजली विभाग ने सफलतापूर्वक इस मांग को पूरा किया। इसके पहले 23 दिसंबर को प्रदेश में बिजली की सर्वोच्चतम मांग 11,421 मेगावाट दर्ज हुई थी।

उन्होंने कहा कि लगातार पूर्व के दो वर्षों में बिजली की मांग दिसंबर माह में निरंतर बढ़ती रही है, किंतु इस वर्ष प्रदेश में कम वर्षा होने के कारण करीब डेढ़ माह पूर्व ही बिजली की मांग और सप्लाई में निरंतर बढ़त्तरी दर्ज हो रही है। प्रदेश में पिछले 6 दिनों से बिजली की मांग 11,000 मेगावाट से ऊपर दर्ज हुई है। प्रदेश की तीनों विद्युत वितरण कंपनियों के क्षेत्र में कृषि कार्य के लिये बिजली की मांग को पूरा किया जा रहा है।