यूरोपीय दंपति ने विदिशा की दो बेटियों को लिया गोद


विदिशा : विदिशा चाईल्ड लाइन के शिशु गृह में पलकर बड़ी हुई दो लड़कियों को यूरोप के माल्टा देश के दंपत्ति ने गोद लिया है। बेटियों को विदेश ले जाने के लिए दिल्ली से पासपोर्ट भी तैयार हो गए है। अब विदेशी दूतावास की प्रक्रिया पूरी होने के बाद शहर की यह दोनों मासूम बेटियां अपने नए माता पिता के साथ विदेश के लिए रवाना हो जाएगी, और उनका आगे का जीवन गोद लेने वाले माता पिता के साथ बीतेगा।

बेटियों को गोद लेने वाले यूरोप के माल्टा के दंपत्ति एटीनी बिला, और मेरियम जेमिक इन बेटियों को गोद लेकर उन्हें अच्छी शिक्षा देकर डाक्टर बनाना चाहते है। ज्ञात हो कि विदिशा चाईल्ड लाईन को ये दो बेटियां विदिशा रेलवे स्टेशन पर घूमते हुए मिली थी अगस्त 2015 में इन दोनों बहनों को किसी ने रेलवे स्टेशन पर छोड़ दिया था, और तभी से यह चाईल्ड लाइन के शिशु गृह में पल रही थी। तब उनकी उम्र 3 व 4 साल थी। अब पूजा व नंदनी 5 व 6 वर्ष की हो चुकी है।

दंपत्ति का कहना है कि वह बेटियों को पाकर बहुत खुश है उनकी माता पिता बनने की बरसों पुरानी इच्छा पूरी हो गई है, वह अपना पूरा जीवन उन बेटियो की देखभाल में लगाएगें, और उन्हें पढ़ा, लिखाकर डाक्टर बनाएगें, बेटियां भी अपने नए माता पिता के साथ काफी खुश नजर आई। इस दौरान चाईल्ड लाईन का माहौल काफी भावुक हो गया था। दंपत्ति ने कहा कि इन बच्चियो को अंग्रेजी सिखाने के लिए वह अलग से अंग्रेजी का कोर्स कराएगें, ताकि वह अच्छे से बात करने के साथ ही अपनी पढ़ाई पूरी कर सकें, घर पहुंचते ही दोनों बेटियों को अच्छे स्कूल में दाखिला कराएंगे।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।