हवाई सफर करने वाले यात्रियों को केंद्र सरकार ने आज बड़ी राहत दी है। केंद्र सरकार ने घोषणा है कि अगर उड़ान में देरी होती है तो एयरलाइन कंपनी को यात्रियों को मुआवजा देना होगा। विमान राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा है कि एयरलाइन कंपनियो को यात्रियों को किसी न किसी रूप में मुआवजा देना होगा।

केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा, “अगर फ्लाइट कैंसिल हो जाती है और इसमें एयरलाइन की गलती होती है तो यात्रियों को मुआवजा दिया जाएगा या फिर टिकट के पैसे वापस दिए जाएंगे। वहीं, अगर फ्लाइट देरी से उड़ान भरती है, तो यात्रियों को अलग-अलग मुआवजा दिया जाएगा।”

जयंत सिन्हा ने आगे कहा,”यात्रियों के अधिकार बढ़ेंगे। कैंसलेशन चार्जेज में एयरलाइन्स की मनमानी खत्म होगी। चार घंटे से अधिक फ्लाइट में देरी पर टिकट कैंसल कराने पर यात्री पूरा किराया वापस पाने का हकदार होगा। एयरलाइन्स की गलती से फ्लाइट रदद् होने पर मुआवजा देना होगा। हालांकि अभी ये ड्राफ्ट है। इस ड्राफ्ट पर सभी से राय ली जाएगी।”

बता दें कि उड़ानों में देरी और उड़ान रद्द होने के बाद यात्रियों को मुआवजा देने की मांग काफी समय से उठती रही है। ऐसे में सरकार ने आज ये एलान करके हवाई सफर करने वाले लोगों को बड़ी राहत दी है।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।