हिमाचल प्रदेश में बीजेपी की सरकार , जयराम ठाकुर समेत 11 मंत्रियों ने ली शपथ


himachal cm

हिमाचल के इतिहास में जयराम ठाकुर ऐसे पहले सीएम बन गए जिनके शपथ ग्रहण समारोह में देश के प्रधानमंत्री की मौजूदगी रही। इससे पहले प्रदेश के बने किसी भी मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री की मौजूदगी में पद एवं गोपनियता की शपथ ग्रहण नहीं की है। आपको बता दे कि  ऐतिहासिक रिज मैदान में हुए शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल ने जयराम ठाकुर को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।। हिमाचल के 13वें मुख्यमंत्री के रूप में जयराम ठाकुर के शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित भाजपा के कई दिग्गज नेता पहुंचे।

> राजीव सैजल ने मंत्री पद की शपथ ली।

> विक्रम सिंह, गोविंद ठाकुर ने मंत्री पद की शपथ ली।

> वीरेंद्र कंवर , विपिन परमार और रामलाल मार्कण्डेय ने मंत्री पद की शपथ ली।

> सरवीन चौधरी ने मंत्री पद की शपथ ली।

> अनिल शर्मा ने मंत्री पद की शपथ ली। शर्मा मंडी सीट से विधायक हैं। वो 2017 के हिमाचल चुनाव से पहले ही भाजपा में शामिल हुए थे। ये तीन बार विधायक और एक बार राज्यसभा सांसद रह चुके हैं।

> महेंद्र सिंह ठाकुर, किशन कपूर और सुरेश भारद्वाज ने मंत्री पद की शपथ ली।

> जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश के 13वें मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

जयराम ठाकुर के शपथ ग्रहण में शामिल होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री शामिल पहुंच गए हैं।

> शिमला पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जयराम ठाकुर ने किया स्वागत।

> प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पहुंचे शिमला, नव निर्वाचित मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने स्वागत किया।

> शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी पहुंचे।

> प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह में भाग लेने के लिये शिमला जाने के दौरान यहां चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर पहुंचे। पंजाब और हरियाणा के राज्यपालों, चंडीगढ़ प्रशासन अधिकारियों तथा भारतीय जनता पाटीर् के वरिष्ठ नेताओं ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया।

शपथ ग्रहण से पहले जयराम ठाकुर ने कहा कि लोगों ने हम पर विश्‍वास जताया है। हम उनकी उम्‍मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करेंगे। इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि ‘बहुत खुशी होती अगर पिताजी साथ होते। एक साल पहले वो हमें छोड़कर चले गए। माताजी अस्‍वस्‍थ हैं, लेकिन उनका आशीर्वाद हैं और ये मेरे लिए बहुत बड़ी बात है।

जयराम ठाकुर की पत्नी साधना ठाकुर ने कहा कि यह एक कॉमन मैन की जीत है। इस सरकार से लोगों को बहुत उम्मीद है। यह सरकार लोगों की समस्याओं का समाधान करने की कोशिश करेगी।

जयराम के साथ उनके मं‍त्रिमंडल में महेंद्र सिंह, सुरेश भारद्वाज सिंह, सुरेश भारद्वाज, अनिल शर्मा, सरवीन चौधरी, रामलाल मरकंद, विपिन सिंह परमान, वीरेंद्र कंवर, विक्रम सिंह, गोविंद सिंह और राजीव सहजल भी मंत्री पद की शपथ लेंगे।

आपको बता दे बीजेपी ने नव निर्वाचित विधायकों ने पांच बार के विधायक जयराम ठाकुर को अपना नेता चुना। वह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बाद में राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मिले और राज्य में नई सरकार बनाने का दावा पेश किया।

इस भव्य समारोह के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं और रिज, अन्नाडेल हेलीपैड तथा जुब्बार-हट्टी हवाई अड्डा एसपीजी के सुरक्षा घेरा में है।

आपको बता दें कि हिमाचल की 68 विधानसभा सीटों में से बीजेपी ने 44 सीटों पर जीत दर्ज की है। लेकिन चुनाव में बीजेपी के सीएम का चेहरा रहे प्रेम कुमार सिंह धूमल नहीं जीत सके। इसके बाद कई दिन तक माथापच्ची के बाद पार्टी आलाकमान ने मुख्यमंत्री के लिए जयराम ठाकुर के नाम पर मुहर लगाई।

जानिए जयराम ठाकुर के बारे में …
जयराम ठाकुर वल्लभ कालेज मंडी से बीए की पढ़ाई कर रहे थे तो उन्होंने एबीवीपी के माध्यम से छात्र राजनीति में प्रवेश किया। यहीं से शुरूआत हुई जय राम ठाकुर के राजनीतिक जीवन की। जय राम ठाकुर ने इसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा।

जयराम ठाकुर एबीवीपी से जुड़े रहने के बाद साथ-साथ संघ के साथ भी जुड़े और कार्य करते रहे। जयराम ठाकुर ने जम्मू-कश्मीर जाकर एबीवीपी का प्रचार किया और 1992 को वापिस घर लौटे। जयराम ठाकुर हिमाचल के 13वें मुख्यमंत्री होंगे। जयराम ठाकुर अपने नए मंत्रिमंडल के साथ शपथ लेंगे।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।