GOLD सस्ता, जूते-बीड़ी होंगे महंगे


नई दिल्ली : आज दिल्ली के विज्ञान भवन में GST को लेकर 1 जुलाई से लागू होने से पहले वित्त मंत्रालय में GST काउंसिल की एक अहम बैठक खत्म हो गई है। आज इस बैठक में की अध्यक्षता कर रहे वित्त मंत्री अरुण जेटली में  2000 /- रुपए से अधिक अहम वस्तुओं के TAX स्लैब को तय किया गया।

सूत्रों से सूचना मिली है कि GST में Gold, Silver और हीरा पर 3 % TAX और बिस्कुट पर 18% GST TAX लगेगा। अगर आप 500 रुपए कीमत से कम वाले जूते पहनेगे तो आपको 5 फीसदी टैक्स देना होगा । और अगर आप 500 रुपए कीमत से  अधिक वाले जूते पहनते है तो आपको 18% की दर से TAX वसूला देना होगा । बीड़ी पर 28 % TAX  और तेंदू पत्ते पर 18 % की TAX पर लगेगा ।

GST काउंसिल की इस बैठक में 1 जुलाई 2017 से पूरे देश में एक TAX लागू करने पर पूरी सहमति बन गई है। काउंसिल की बैठक में जहां एक तरफ Goods Returns और एक राज्य से दूसरे राज्य में एंट्री को लेकर नियम बन गए हैं।

केरल के वित्त मंत्री थॉमस आईसैक ने पत्रकारों से कहा कि GOLD को छोड़कर के सभी मुद्दों पर सहमति बन गई है। GST में अभी साफ़ तौर तय नहीं है कि 2500 से अधिक सामानों पर क्या दर तय की गई है। GST के तहत सोलर पैनल पर 5% TAX लगेगा।

उन्होंने कहा कि सौर पैनल, डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ, कॉटन और प्राकृतिक फाइबर पर तथा एक हजार रुपये से कम वस्त्रों  पर 5% GST TAX लगेगा। हालांकि कृत्रिम फाइबर पर यह दर 18 % होगी।

उन्होंने कहा कि एंटी प्रोफिटी रिंग को लेकर मिलने वाली शिकायतों के लिए GST परिषद एक समिति बनायेगी। GST परिषद की अगली बैठक अब 11 जून को होगी।

पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा के GST को लागू करने की तिथि बढ़ाने तथा इसके वर्तमान स्वरूप में बदलाव करने की मांग के बारे में पूछे जाने पर श्री जेटली ने कहा कि बैठक में इस मुद्दा उठा था लेकिन किसी सदस्य ने इसका समर्थन नहीं किया।