2 वर्ष तक के सभी बच्चों का किया जाएगा संपूर्ण टीकाकरण


गुरुग्राम: गुरुग्राम सहित प्रदेश के चार जिलों में 15 मई से मिशन इंद्रधनुष के दूसरे चरण का चौथा फेज चलाया जाएगा, जिसके तहत 2 वर्ष तक के सभी बच्चों का संपूर्ण टीकाकरण किया जाएगा। मिशन इंद्रधनुष के तहत गुरुग्राम जिला में 2 वर्ष तक का कोई भी बच्चा बीमारियों से बचाव के लिए संपूर्ण टीकाकरण से वंचित न रहे, इसके लिए उपायुक्त हरदीप सिंह ने जिला के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में उनके साथ सिविल सर्जन डा. कांता गोयल तथा उप सिविल सर्जन डा. नीलम थापर भी थी। उपायुक्त ने कहा कि जानलेवा बिमारियों से बचाव के लिए सरकार द्वारा मिशन इंद्रधनुष कार्यक्रम शुरू किया गया है। इस बार यह कार्यक्रम 15 मई से शुरू 22 मई तक चलेगा और टीकाकरण का यह कार्यक्रम प्रदेश के गुरुग्राम, पलवल, नूंह तथा रोहतक जिलों में चलाया जा रहा है। इन चारों जिलों में बच्चों के स्वास्थ्य के लिए यह कार्यक्रम इस वर्ष अपै्रल माह में शुरू किया गया था, जो चार महीनों अर्थात् जुलाई तक चलाया जाएगा।

उन्होंने बताया कि मिशन इंद्रधनुष को स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देख रहे हैं और उनकी इच्छा है कि सन् 2020 तक देश में हर बच्चे का संपूर्ण टीकाकरण हो, ताकि बच्चे बिमारियों से बचे रहें और भारत का भविष्य स्वस्थ हो। इस प्रकार, प्रधानमंत्री की मंशा एक स्वस्थ भारत के निर्माण की है। उन्होंने जिला के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारियों से मुखातिब होते हुए कहा कि मिशन इंद्रधनुष के इस चरण में दो वर्ष तक का कोई भी बच्चा टीकाकरण से छूटना नही चाहिए। इसके लिए वे आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं तथा आशा वर्करों के सहयोग से ऐसे बच्चों की सूची तैयार करें जिनके टीके लगाए जाने हैं। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सा अधिकारी अपने-अपने स्वास्थ्य केंद्र के क्षेत्र में टीकाकरण के लिए माईक्रो प्लानिंग करें और यह भ्भी ध्यान रखें कि इन बिमारियों से बचाने वाले टीकों को सही तापमान पर रखा जाए। उन्होंने कहा कि चिकित्सा अधिकारी अपने स्टाफ या फॉर्मासिस्ट की ड्यूटी लगाए कि वह यह सुनिश्चित करें कि टीकों की कोल्ड चेन ना टूटे।

– एमके अरोड़ा