आंगनबाड़ी केन्द्रों को सौर ऊर्जा से जोड़ा जायेगा


चंडीगढ़: हरियाणा की महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने कहा है कि प्रदेश के आंगनवाड़ी केन्द्रों में गर्मी के मौसम में बिजली की समस्या को दूर करने के लिए पंखों व रोशनी के लिए लगाये जाने वाले उपकरणों को सौर ऊर्जा से जोड़ा जायेगा ताकि नौनिहालों को गर्मी से निजात मिल सके। सरकार के इस कदम से जहां आंगनवाड़ी केंद्रों का वातावरण अच्छा होगा वहीं बच्चों की संख्या भी बढ़ेगी। हरियाणा के सभी 25962 आंगनवाड़ी केन्द्रों को चरणबद्घ तरीके से सौर उर्जा से जोड़ा जायेगा जिसके पहले चरण में जल्द ही 9500 आंगनवाड़ी केन्द्रों के 2 पंखों एवं 3 लाइटों को सौर ऊर्जा के साथ जोड़ा जायेगा। श्रीमती जैन की अध्यक्षता में हुई समीक्षा बैठक में दी गई। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने सभी राज्यों के आंगनवाड़ी केंद्रों को सौर ऊर्जा से जोड़े जाने के निर्देश दिये हैं, उसकी अनुपालना में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल से प्रदेश की सभी आंगनवाड़ी केंद्रों को सौर ऊर्जा से जोडऩे की अनुमति प्राप्त कर ली गई है। प्रथम चरण की परियोजना पर लगभग 16 करोड़ रुपये राज्य सरकार द्वारा खर्च किये जायेगें।

प्रथम चरण में जो आंगनवाड़ी केन्द्र सरकारी भवनों में चलाये जा रहे हैं उन्हें सौर उर्जा से जोड़ा जायेगा। उन्होने महिला एवं बाल विकास विभाग एवं हरेडा के अधिकारियों को तकनीकी पहलुओं पर विचार करके परियोजना को जल्द से जल्द शुरू किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिकारियों को इन केन्द्रों में सौर पम्प की परियोजना के प्रस्ताव को तैयार करने ,सभी आंगनवाड़ी केन्द्रों में शुद्घ पानी तथा शोैचालयों में पानी की उपलब्धता के लिए सर्वे करवाकर वास्तविक स्थिति का पता लगाने के भी निर्देश दिये । उन्होंने विकास एवं पंचायत विभाग से समन्वय स्थापित करके जिन आंगनवाड़ी केंद्रों में शौचालय नहीं है, में शौचाालय निर्माण जल्द से जल्द करवाने के भी आदेश दिये।

(राजेश जैन)