घायलों की सुरक्षा की जाए: करात


फरीदाबाद : जुनैद हत्याकांड के मामले में दुबारा फरीदाबाद पहुंची पूर्व सांसद वृंद्धा करात ने सेक्टर 21 स्थित पुलिस आयुक्त कार्यालय में ट्रेन में जुनैद के साथ चाकू लगने के चलते घायल हुए दोनों युवकों की सुरक्षा के लिये पुलिस आयुक्त हनीफ कुरैशी से मुलाकात की और मांग की कि अस्पताल से ईलाज करवाने के बाद घर पहुंचे दोनों युवकों को सुरक्षा दी जाये। जिसके लिये वृंद्धा करात ने लिखित रूप में सुरक्षा के लिये ज्ञापन भी पुलिय आयुक्त को सोंपा।

जिसपर पुलिस आयुक्त डा हनीफ कुरैशी ने कहा कि अभी पीडित परिवार की ओर से सुरक्षा की मांंग के लिये कोई सूचना नहीं मिली है उनका प्रशासन पूर मामले पर नजर गडाये हुए है अगर युवकों की खतरे वाली कोई बात सामने आयेगी तो जरूर सुरक्षा दी जायेगी। मालूम हो कि 22 जून को गाजियाबाद मथुरा ट्रेन में सीट को लेकर हुए दो पक्षों के झगडे में चले चाकू के कारण जुनैद की हत्या हो गई थी और उसके दो साथी घायल हो गये थे जिन्हें ईलाज अस्पताल में चल रहा था, चाकूबाजी में घायल हुए दोनों युवकों को अस्पताल में छुट्टी देकर घर वापिस भेज दिया है।

मगर अभी तक मामला सम्पूर्ण रूप से शांत न होने के कारण दुबारा पूर्व सांसद वृंद्धा करात फरीदाबाद पहुंची और दोनों युवकों की सुरक्षा के लिये पुलिस आयुक्त हनीफ कुरैशी से उनके कार्यालय पर मुलाकात की। इस बीच वृंद्धा करात ने पुलिस आयुक्त को सुरक्षा के लिये लिखित रूप में ज्ञापन सोंपा। वृंद्धा करात ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जुनैद मामले में वो दूसरी बार फरीदाबाद पहुंची हैं, उन्हें पता लगा कि जुनैद के साथ चाकूबाजी में घायल हुए दो अन्य साथी अस्पताल से घर वापिस आ गये हैं जिन्हें चैकअप के लिये अस्पताल भी जाना होता है और गांव से बाहर भी जाना होता है। वहीं इस बारे मे पुलिस आयुक्त हनीफ कुरैशी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि उनका पूरा प्रशासन जुनैद मामले पर निगाह बनाये हुए है अभी सुरक्षा जैसी कोई बात उनके सामने पीडित परिवार की ओर से नहीं आई है, अगर ऐसा कुछ उन्हें लगेगा तो जरूर सुरक्षा दी जायेगी।

– राकेश देव