जुनैद के परिजनों को सांत्वना देने पहुंची वृंदा करात


फरीदाबाद: खंदावली गांव के 15 वर्षीय विद्यार्थी जुनैद की रेल में सफर करते हुए हत्या की घटना दो गुटों के आपसी झगड़े का परिणाम न होकर साम्प्रदायिक इरादों से संचालित कुछ आपराधिक तत्वों द्वारा किये गये एकतरफा हमले का नतीजा है। यह बात आज यहां भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) के शीर्ष नेता पोलिट ब्यूरो सदस्या का. वृंदा कारात एवं का. मोहम्मद सलीम लोकसभा सांसद ने पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कही। पार्टी के उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल ने गांव में पहुंचकर पीडि़त परिवार से मिलकर अपनी संवेदनाएं प्रकट की।

प्रतिनिधिमंडल में का. वृंदा कारात और मोहम्मद सलीम के अलावा केन्द्रीय कमेटी सदस्य एवं पार्टी के हरियाणा राज्य सचिव का. सुरेन्द्र सिंह, राज्य कमेटी सदस्य का. सतबीर सिंह, पार्टी के जिला सचिव शिव प्रसाद, का. विजय झा, निरंतर, नवन सिंह, का. विरेन्द्र पाल, नौजवान सभा के राज्य सचिव संदीप सिंह, एडवोकेट विनोद कुमार भारद्वाज, एडवोकेट अहमद निमका आदि गणमान्य लोग शामिल रहे।माकपा के प्रतिनिधिमंडल ने इस हमले में संलिप्त सभी अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने, घायल साकिर के ईलाज की समुचित व्यवस्था करने तथा पीडि़त परिवार को पर्याप्त मुआवजा देने की मांग की है। पार्टी नेतृत्व ने तमाम देशप्रेमी, सद्भाव पे्रमी नागरिकों, जनसंगठनों एवं राजनैतिक दलों से अपील की है कि वे इस हत्यारी नफरत की राजनीति के खिलाफ और न्याय के लिए प्रतिरोध संगठित करते हुए साम्प्रदायिक सौहार्द की रक्षा करें।

(राकेश देव, देशपाल)