कार सवार लोगों ने फेंका एसिड


पलवल: जिला कोर्ट से तारीख लेकर आ रही स्कूटी सवार महिला पर कार सवार कुछ लोगों ने एसिड़ फेंक दिया और मौके से कार सहित फरार हो गए। एसिड महिला के गले, कमर व स्कूटी पर पड़ा। राहगीरों ने महिला को उपचार के लिए तुरंत सिविल अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। एक विवाहिता ने बताया कि पीडि़ता की शादी गत 2 फरवरी वर्ष 2013 को दिल्ली के रहने वाले एक व्यक्ति के साथ हुई थी और शादी में पीडि़ता के पिता ने हैश्यितनुसार दान-दहेज भी दिया था। विवाहिता ने बताया कि वह उच्च शिक्षा प्राप्ता है और जिस समय उसकी शादी हुई थी तो शादी से पहले उसके मायके वालो से झुठ बोला गया था कि लडक़ा डीएसपी के पद पर कार्यरत है। लेकिन शादी के बाद पता चला कि शादी झुठ बोलकर की गई है।

जिसके बाद पीडि़ता के सुसराल वाले व मायके वालो के बीच कहासुनी चलती रही। पीडि़ता का आरोप है कि उसका ससुर भी उसके साथ अभ्रद व्यवहार करता है। जिसको लेकर उसने अपने सुसराल वालो के खिलाफ केस डाला हुआ है। जो जिला पलवल की अदालत में विचारधीन है। 11 अगस्त को विवाहिता स्कूटी पर सवार होकर अपने मायके वालो के साथ जिला अदालत में अपनी तारीख पर गई थी। पीडि़ता ने बताया कि उसके सुसराल वालो ने पहले भी कई केस उसके खिलाफ झुठे डाले हुए है और पीडि़ता द्वारा दर्ज कराए केस को समाप्त करना चाहते है। उसी की रंजिश के चलते इस वारदात को अंजाम दिया गया है।

अदालत से तारीख के बाद पीडि़ता स्कूटी पर सवार होकर अकेली पलवल आ रही थी। जब वह एनएच-टू पर धोलागढ़ मोड़ के समीप पहुंची तो पिछे से कार में सवार होकर कुछ लोगों ने उस पर पीछे से एसिड़ डाल दिया। एसिड़ डालने के बाद कार सवार लोग मौके से फरार हो गए। राहगीरों ने पीडि़ता को उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं अस्पताल में उपचार करने वाले चिकित्सक ने बताया कि एसिड़ ज्यादा तेज नही था। जिससे शरीर की उपरी परत जली है ज्यादा कोई घाव नही है। लगभग तीन-चार घंटे के बाद उपचार उसे छुट्टी देकर घर भेज दिया जाएगा। वहीं समाचार लिखे जाने तक पुलिस मामले की जांच कर रही थी।

– ओमप्रकाश गुप्ता