दो वर्षों से सड़क क्षतिग्रस्त, लोग परेशान


सोहना: यहां पर गांव कादरपुर, सीआरपीएफ, मैदावास, रामगढ़, उल्लावास, बैरमपुर, बंधवाड़ी गांवों को जोडऩे वाली सड़क बीते 2 साल से टूटी पड़ी है लेकिन शासन-प्रशासन सड़क को बनवाने की तरफ ध्यान नही दे रहा है। जिससे उपरोक्त गांवों के ग्रामीण और वाहन चालक परेशान है। समाजसेवी बेगराज एडवोकेट, मनोज बंधवाड़ी, राजबीर बालियावास आदि लोगों का कहना है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल सरकार और पीडब्लयूडी मंत्री विकास को बढ़ावा देने तथा सड़कों की मरम्मत कराने के दावे करते नही थकते है लेकिन यह सड़क मुख्यमंत्री और पीडब्लयूडी मंत्री के दावों को झुठला रही है। हालात ये है कि 2 साल से क्षतिग्रस्त इस सड़क मार्ग की मरम्मत तक भी नही हो पाई है। उन्होने बताया कि आधा दर्जन गांवों को आपस में जोडऩे वाला कादरपुर रोड 5 वर्ष पहले आधी-अधूरी योजना के साथ कंकरीट का बनाया गया।

बाद में सीवरेज पाइपलाइन डालने के नाम पर रोड को खोद दिया गया। तभी से ये रोड क्षतिग्रस्त हालत में पड़ा है। कादरपुर रोड पर जगह-जगह सड़क पर बने गढ्ढों में बरसाती पानी भरने से गढ्ढे राहगीरों और वाहन चालकों के लिए खतरा बन गए है।  विधायक तेजपाल तंवर का कहना है कि इस सड़क के लिए उन्होने काफी लड़ाई लड़ी है। उम्मीद है कि सड़क का काम जल्द शुरू होने वाला है। निर्माण कार्य कादरपुर गांव की तरफ से शुरू किया जाएगा। दोबारा से इस रोड को कंकरीट का बनाया जाएगा। सड़क के दोनों तरफ गंदे और बरसाती पानी की निकासी के लिए बड़े नाले बनाए जाएंगे।

– उमेश गुप्ता