बेटियों के आगे झुकी सरकार


क्षेत्र के अतंर्गत आने वाले गाँव गोठड़ा टप्पा डहीना की सैंकड़ो छात्राओं की मेहनत रंग लाई तथा आखिरकार सरकार को स्कूल अपगे्रड करना ही पड़ा। प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार दोपहर उपायुक्त डॉ. यश गर्ग स्कूल अपगे्रड का पत्र लेकर धरना स्थल पर पहुंचे तथा छात्राओं को जूस पिलाकर अनशन तुड़वाया। जिला उपायुक्त ने बताया कि राजकीय उच्च विद्यालय गोठड़ा टप्पा डहीना स्कूल को अपग्रेड करके राजकीय वरिष्ट माध्यमिक विद्यालय बना दिया है। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग ने पत्र क्रमांक नं0 2/11-2017 एसई (3) दिनांक 17 मई 2017 को पत्र जारी कर विद्यालय अपग्रेड की घोषणा कर दी गई है। डॉ. यश गर्ग ने गोठडा टप्पा डहीना गाँव में जाकर इसकी सूचना ग्रामीणों एवं स्कूल की छात्राओं को पत्र पढ़कर दी। उन्होंने कहा कि स्कूल को अपगे्रड करने के लिए एक से दो माह लग जाते हं। तथा इस स्कूल के नियम पूरे नहीं हैं, फि र भी छात्राओं के भविष्य को

देखते हुए शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा ने नोटिफीकेशन जारी करके स्कूल अपगे्रड कर दिया। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही स्कूल में 12वीं की कक्षाएं शुरू हो जाएगी तथा कल से प्रधानाचार्य आ जाएगा। वहीं दूसरी तरफ गाँव गोठड़ा की छात्राओं में खुशी की लहर छा गई। छात्रा पूजा, एकता, पल्लवी चौहान ने कहा कि उनकी आठ दिन की मेहनत रंग लाई अब वे गाँव में ही 12वीं की पढ़ाई करेगीं। गाँव के सरपंच सुरेश चौहान, जिला पार्षद अमित यादव एवं ग्रामीण महिला ओमवती, ऊषा चौहान, ने पंजाब केसरी का तहदिल से धन्यवाद किया तथा कहा कि इस समाचार पत्र ने छात्राओं की आवाज को बुंलद किया हैं तथा उनके हक की लड़ाई को प्रमुखता से प्रकाशित किया। जिस पर प्रशासन एवं सरकार की नींद टूटी तथा स्कूल को अपगे्रड कर दिया। ग्रामीणों ने स्कूल अपगे्रड करने पर सरकार एवं प्रशासन का धन्यवाद किया। गौरतलब है कि पिछले आठ दिनों से गाँव गोठड़ा टप्पा डहीना की छात्राएं अपने स्कूल को अपगे्रड करवाने के लिए धरने एवं अनशन पर बैठी थी लेकिन काफी  दिन तक मीडिया में खबर चलने के बाद सरकार की आंखे खुली तथा शिक्षामंत्री के आदेश पर स्कूल अपगे्रड का पत्र लेकर उपायुक्त डॉ. यश गर्ग गाँव गोठड़ा टप्पा डहीना पहुंचे जिस पर अनशन पर बैठी हुई छात्राएं खुशी से झूम उठी। इसके साथ-साथ राजपूत युवा संगठन के सदस्य राकेश चौहान भी अपने सैकड़ों साथियों के साथ मंगलवार को धरने स्थल पर पहुंचे थे तथा अनशन पर बैठी छात्राओं का समर्थन किया था।