आपातकालीन कक्ष में घुसकर दो भाइयों को बुरी तरह पीटा


फरीदाबाद : बादशाह खान अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में करीब पांच दबंग लोगों ने अपना इलाज करवाने के लिए आए दो भाईयों पर लाठी डंडों से हमला कर दिया। दोनों भाईयो को पीट रहे लोगों को किसी ने कुछ नही कहा। उस समय अस्पताल में एक ही सुरक्षाकर्मी मौके पर मौजूद था। दोनों भाईयों को पीटते देखकर अस्पताल के कर्मचारी व चिकित्सक भी साइड में हो गए। अस्पताल में हुए गुंडा राज को देखते हुए घायल दोनों भाईयों ने इसकी शिकायत पुलिस को दी है।

पीडि़त का आरोप है कि उनका कावंड को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसके कारण से आरोपियों ने मौके पर उसके छोटे भाई को पीटा, वह अपने छोटे भाई को इलाज करवाने बीके सिविल अस्पताल लेकर आया तो आरोपियों ने दोनों भाईयों को जान से मारने की नीयत से अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में आकर खुब पीटा। जानकारी के मुताबिक 41 वर्षीय सुंदर और 31 वर्षीय जोगिन्द्र नामक दोनों भाई अजरौंदा में अपने परिवार के साथ रहते है।

सुंदर ने बताया कि उसका भाई जोगिन्द्र कांवडिय़ों को लेने के लिए निकला था। कांवड से गंगा जल गिरने के कारण उसका पड़ौस में ही रहने वाले एक व्यक्ति ने उससे बहसबाजी करते हुए उस पर अन्य लोगों के साथ मिलकर हमला कर दिया। सरियों और तलवारों से आरोपियों ने एकत्रित होकर जोगिन्द्र को बुरी तरह से घायल कर दिया। वह जोगिन्द्र को लेकर बीके सिविल अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में इलाज के लिए लेकर पहुंचा, जैसे ही वह चिकित्सक के कक्ष में गया।

उसी दौरान आरोपी ने अपने कुछ दबंग लोगों के साथ लाठी डंडों से दोनों भाईयों पर हमला कर दिया। मौके पर मौजूद चिकित्सक व कर्मचारी जब तक पुलिस को बुलाते तब तक आरोपी उन्हे बुरी तरह से घायल कर जान से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए, बाद में चिकित्सक व कर्मचारियों ने बीके में मौजूद पुलिस चौकी में इसकी शिकायत दी।

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर आरोपियों के बयान दर्ज कर लिए है। फिलहाल पुलिस सीसीटीवी कैमरों की जांच में जुट गई है। वही दूसरी तरफ ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक का कहना था कि आरोपी पीडि़त पक्ष को जान से मारने की नीयत से अस्पताल में आए थे। पुलिस को फोन करने पर आरोपी भाग निकले। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

– राकेश देव