सता के नशे में चूर लोगों की गुंडागर्दी को बर्दाश्त नही किया जाएगा: अभय


सिरसा: ऐलनाबाद के विधायक व नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने कहा कि सत्ता के नशे में चूर होकर कुछ लोगों ने ऐलनाबाद के इलाके में हत्या और गुंडागर्दी जैसे काम आरंभ कर दिए हैं जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और उन्हें सलाखों के पीछे भिजवाया जाएगा। अभय चौटाला ने इस पूरे मामले को लेकर सरकार और पुलिस प्रशासन को एक सप्ताह का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि प्रशासन खुद इस कथित नेता के विरूद्व एफआईआर दर्ज करें अनयथा इनेलो इस मुददे को लेकर कोई भी आंदोलन करने से पीछे नही हटेगी,और उसके लिए प्रशासन और सरकार स्वयं इसकी जिम्मेवार होगी। वे मंगलवार को गांव तकरांवाली में बीती 8 सितंबर को कुछ लोगों के हमले में जान गंवाने वाले हनुमान यादव के आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

अभय चौटाला ने कहा कि सरकारी संरक्षण प्राप्त लोग आज बीजेपी की सरकार में औहदों पर बैठकर गुंडागर्दी करने का काम कर रहे है,जिसे इलाके की जनता बर्दाश्त नही करेगी। उन्होने बीजेपी के कथित नेता के विरूद्व खुलासा करते हुए कहा कि ये वही लोग है जिन्होने डेराप्रमुख गुरमीत राम रहीम के सामने खड़े होकर ये तक कहा था कि जहां आपका पसीना बहेगा वहां हम खून बहा देगें। अभय चौटाला ने कहा कि जो बीजेपी के नेता खून बहाने की सोच रखते हो,वो भला आमजन का भला कैसे कर सकते है। उन्होने कहा कि पुलिस ने मुख्य षडयंत्रकारी को इस पूरे मामले से बाहर रखा हुआ है जबकि पूरा षडयंत्र जिसके घर बैठकर और जिसके कहने पर रचा गया,उसका पुलिस की एफआईआर में कही नाम तक शामिल नही है।

उन्होने कहा कि गुरुग्राम में एक अबोध बालक की स्कूल में ही हत्या करने के मामले से प्रदेश की कानून व्य्वस्था का अंदाजा सहज लगाया जा सकता है। इससे पूर्व उन्होंने अपने ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों में भी जनसभाओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आगामी 25 सितंबर को न केवल हरियाणा बल्कि देश के अनेक राज्य से लाखों की सं या में लोग किसानों के मसीहा व पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल को उनकी 104वीं जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। इस अभियान के दौरान उनके साथ युवा इनेलो जिलाध्यक्ष धर्मवीर नैन, विनोद बेनीवाल, महेंद्र बाना, हरपाल कासनियां, सु ााष हंजीरा, दिनेश बेनीवाल, अरविंद शास्त्री, अजब ओला, राजेन्द्र जोधकां, नरेश कुसुंबी सहित काफी संख्या में पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

(दीपक शर्मा)