मजदूर यूनियन ने मंत्री को सौंपा ज्ञापन


गुरुग्राम: केंद्र व राज्य सरकार की मजदूर व किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ आज देश व प्रदेश के हर क्षेत्र के मेहनतकशों में रोष की व्यापकता उफान पर है। इसी कड़ी में आज गुरुग्राम के एमईएसएल ठेका मजदूर व वन विभाग मजदूर यूनियन ने कमला नेहरू पार्क में सभा कर प्रदर्शन करते हुये विधान सभा क्षेत्र के जन प्रतिनिधि एवं मंत्री राव नरवीर सिंह को अपनी मांगों का ज्ञापन दिया। सभा की अध्यक्षता एमईएसएल के बलबीर सिंह व वन विभाग के जि़ला अध्यक्ष दया राम ने तथा संचालन सीआईटीयू के राज्य अध्यक्ष कामरेड सतवीर सिंह ने किया। ज्ञात रहे की एमईएसएल के बेगमपुर खटौला प्लांट के 500 मजदूरों को कंपनी ने अपनी यूनियन बनाने के चलते काम से निकाल रखा है।

वहीं वन विभाग के अंतर्गत पिछले बीस बीस साल से काम कर रहे मजदूरों को वन विभाग की मनमानी के चलते न तो वेतन मिल पा रहा है और न ही उनको काम दिया जा रहा है। 24 अप्रैल से एमईएसएल के मजदूर शांति प्रिय ढंग से अपना धारणा लगाए कंपनी प्रबंधन व श्रम विभाग से मांग कर रहे हैं की उन्हें काम पर रखा जाए तथा उनकी पिछले दो महीने की तनख़ाह व ओवरटाइम का भुगतान किया जाए। इसी दौरान 20 मई से मजदूरों ने क्रमिक अनशन भी शुरू कर रखा है। मजदूरों उपायुक्त गुडग़ाँव, लेबर कमिश्नर हरियाणा व अतिरिक्त श्रमायुकर को भी ज्ञापन दे चुके हैं।

9 जून को मजदूर न्याय सम्मेलन व 20 जून को महापंचायत की जिसमें क्षेत्र के बीसियों सरपंच, पंचायत सदस्य एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया तथा कंपनी प्रबंधन से बात चीत की। मगर मालिक न तो मजदूरों की ही सुन रहे हैं और न ही श्रम विभाग व पंचायतों की बात पर गौर कर रहे हैं। ज्ञापन के माध्यम से मजदूरों ने मंत्री महोदय से मांग की है की सर्व प्रथम तो मजदूरों का अभी तक का बकाया वेतन व ओवरटाइम का भुगतान शीघ्र करवाया जाए। निकले गए सभी मजदूरों को काम पर वापस लेकर यथास्थिति बहाल की जाए।

– सतबीर, अरोड़ा, तोमर