देश की पहली साइबर सिक्योरिटी पॉलिसी लांच


गुरुग्राम: केन्द्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने आज गुरुग्राम में आयोजित किए जा रहे डिजीटल हरियाणा सम्मिट के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की उपस्थिति में देश की पहली साइबर सिक्योरिटी पॉलिसी-2017 लांच की। इस पॉलिसी का उद्देश्य हरियाणा साइबर स्पेस में सूचना प्रौद्योगिकी तथा सूचना संचार प्रौद्योगिकी से जुड़ी सूचना प्रक्रिया प्रणालियों में पर्याप्त भरोसा और विश्वास पैदा करके राज्य में सुरक्षित साइबर सोसाइटी बनाना और अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों में सुरक्षित सूचना प्रौद्योगिकी तथा सूचना संचार प्रौद्योगिकी अवसंरचना को बढ़ावा देना है। इसके अतिरिक्त, इसका उद्देश्य राष्ट्रीय तथा अन्तर्राष्ट्रीय मानकों के अनुसार सुरक्षित साइबर पारिस्थितिकी तंत्र या सुरक्षित साइबर सोसाइटी सुनिश्चित करने के लिए विनियामक ढांचे को मजबूत करना भी है।

इस नीति का उद्देश्य ऐसी सूचना, चाहे वह स्थाई रूप से या पारगमन में उपलब्ध या सृजित की गई हो, की गोपनीयता, प्रामाणिकता तथा उपलब्धता सुनिश्चित करना है। यह नीति सुनिश्चित करेगी कि सभी कर्मचारियों के लिए सूचना सुरक्षा पर जागरूकता कार्यक्रम उपलब्ध हो और जहां कहीं लागू हो, वहां सब-कॉन्ट्रेक्टर, परामर्शदाताओं तथा विके्रताओं जैसे तीसरे पक्ष द्वारा उन्हें नियमित प्रशिक्षण दिया जाए। यह नीति यह भी सुनिश्चित करेगी कि यदि कोई सुरक्षा से सम्बन्धित घटना तथा नीति का उल्लंघन, वास्तविक या संदेहास्पद है तो उसकी जांच पदनामित मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारी द्वारा की जाए और उपयुक्त सुधारात्मक तथा निवारक कार्यवाही की जाए।

साइबर सुरक्षा नीति के अन्य उद्देश्य विश्वसनीय संचार, लेनदेन और प्रमाणीकरण के लिए सरकार सहित सभी इकाइयों द्वारा आईटी और आईसीटी बुनियादी सुविधाओं के व्यापक उपयोग को प्रोत्साहित करना, घटनाओं के बारे में रणनीतिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हरियाणा राज्य कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (एचएससीईआरटी) को स्थापित एवं सृजित करना, घटनाओं पर प्रतिक्रिया के लिए हरियाणा राज्य आईटी और आईसीटी बुनियादी ढांचे के प्रति चुनौतियां, प्रभावी पूर्वानुमान, निवारक, सुरक्षात्मक, प्रतिक्रिया और पुनप्र्राप्ति कार्यवाहियों के माध्यम से संकट का प्रबंधन करना है।

राज्य आईटी और आईसीटी और अन्य महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे के संरक्षण के लिए सहयोग करना, कुशल मानवशक्ति सृजित करने के लिए शिक्षा, प्रशिक्षण और जागरूकता गतिविधियों हेतु क्षमता विकास गतिविधियों के लिए सहयोग करना और लोगों में साइबर सुरक्षा जागरूकता फैलाना तथा साइबर सुरक्षा संस्कृति सृजित करके साझे सहयोग और साझेदारी को बढ़ाकर वैश्विक सहयोग को बढ़ाना और हरियाणा में सुरक्षित साइबर स्पेस के लिए एक प्रभावी संचार और प्रचार रणनीति के माध्यम से निजता के लिए जवाबदेह प्रयोक्ता व्यवहार और कार्यवाहियों को प्रोत्साहित करना है। प्रदेश में सुरक्षित साइबर स्पेस और समाज स्थापित करने के लिए निजी और सार्वजनिक क्षेत्रों के विभागों, संस्थानों और उद्योगों सहित सभी संगठनों में एक सुरक्षित साइबर पारिस्थितिकी तंत्र बनाने की आवश्यकता है।

– सतबीर, अरोड़ा