देश की आजादी में वकीलों की महत्वपूर्ण भूमिका: अश्विनी कुमार चोपड़ा


पानीपत: सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी आज पहली बार सांसद बनने के बाद पानीपत की बार एसोसिएशन में पहुंचे। उनके यहां पहुंचने पर बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों और सदस्यों ने जोरदार स्वागत किया। इस अवसर हंसते हंसते हुए सांसद जी ने कहा देर से ही सही बुलाया तो सही और उन्होंने यह भी कहा आप लोगों ने सचमुच मुझे देर से बुलाया हैं। इस अवसर पर सांसद अश्विनी कुमार चोपड़ा जी ने कहा कि तीन साल पहले जब मैं बार एसोसिएशन में आया था पांचवी मंजिल तक पैदल ऊपर गया और हर कमरे में जाकर सभी वकीलों से वोट मांगने की अपील की थी। सभी वकीलों ने मुझे बेहतरीन वोट देकर मुझे सांसद बनाया।

इसलिए यह मेरा कर्तव्य है की आपकी समस्याओं व् परेशानियों कोहल करने का हरसभव प्रयास करू। उन्होंने कहा कि मैंने अपना कर्तव्य पूरी ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा से निभाने की कोशिश कर रहा हूँ। सांसद अश्विनी कुमार जी ने कहा कि मेरे परिवार भी गहरा संबंध रहा हैं वकीलों से मेरे दादाजी लाला जगत नारायण जी ने 1960 के दशक में शेरे दुर्गा अखबार निकालकर अंग्रेजों के खिलाफ आवाज उठाई थी। जम्मू कश्मीर में शेरे दुर्गा अखबार को बंद कर दिया गया था। मेरे दादा जी व् पिताजी नहीं डरे और अखबार में आतंकवादी और अंग्रेजों के खिलाफ लिखते व् लड़ते गए।

(राकेश कुमार)