मिड-डे-मील के वाहन ने छात्र को कुचला


फरीदाबाद: गांव सारन स्थित सरकारी स्कूल में भोजन अवकाश के दौरान बाहर की तरफ जा रहे 11 वर्षीय एक छात्र को स्कूल में मिड-डे-मील लेकर आ रही एक गाड़ी ने परिसर में ही अपनी चपेट में ले लिया। दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुए छात्र को अस्पताल ले जाया गया। जहां जांच के बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव पोस्टमॉर्टम के लिए बादशाह खान अस्पताल भेज दिया गया है। सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रभारी प्रधान अध्यापक शिव करण के मुताबिक शनिवार को सुबह 10:35 बजे आधी छुट्टी हुई थी। स्कूल में इस्कॉन की ओर से कक्षा आठ तक के बच्चों के लिए मिड -डे-मील भेजा जाता है। शनिवार को इस्कॉन का वाहन समय से थोड़ा देर से आया। आधी छुट्टी होने की वजह से करीब 1300 बच्चे कक्षा से बाहर निकल आए थे। दस वर्षीय लक्ष्मी कुमार भी बस्ता लेकर बाहर निकलने के लिए गेट के पास खड़ा था।

एमडीएम की गाड़ी आने पर जैसे ही कर्मचारियों ने मुख्य गेट खोला लक्ष्मी कुमार बाहर की ओर भागा और वाहन के पिछले पहिए के नीचे आ गया। स्कूल के गेट पर बैठे मोची ने शोर मचाया कि बच्चा गाड़ी के नीचे आ गया है। इस पर चालक ने तुरंत ही वाहन बैक कर दिया, इस बार पहिया लक्ष्मी के पेट पर चढ़ गया। गेट पर शोर मचते ही टीचर राजेंद्र सिंह, उत्तम और विष्णु बाहर निकले। छात्र को लहूलुुहान देख राजेंद्र सिंह ने तुरंत अपनी कार निकाली और बच्चे को बीके सिविल अस्पताल पहुंचाया। यहां डॉक्टरों ने लक्ष्मी कुमार को मृत घोषित कर दिया। बच्चे की मौत की सूचना मिलने पर पिता मुकेश और पड़ोसी बीके सिविल अस्पताल पहुंच गए। परिजनों ने एमडीएम चालक और स्कूल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हत्या का मामला दर्ज कराने की मांग की। थाना सारन प्रभारी वेदप्रकाश ने बताया कि मुकेश की शिकायत पर मामला दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

– राकेश देव