होंडा कांड की 12वीं बरसी पर उमड़ा जनसैलाब


मानेसर: आईएमटी मानेसर स्थित होंडा एमपलाइज यूनियन ने विशाल रैली का आयोजन कर मजदूर एकता दिवस मनाया। इसमे गुड़गांव, धारूहेड़ा,  बावल, मानेसर व रेवाड़ी की सभी कम्पनी यूनियनों ने हिस्सा लिया। 25 जुलाई 2005 को हुए होंड़ा कांड़ के बाद से होंड़ा एमपलाईज यूनियन हर साल 25 जुलाई को मजदूर एकता दिवस के रूप में मनाती है। इस अवसर पर सभा में मंच का संचालन एटक के जिला महासचिव अनिल पंवार ने किया। सभा को एटक के प्रदेशाध्यक्ष बलदेव घनघस, सीटू के प्रधान सतबीर, मारूती कामगार यूनियन के महासचिव कुल्दीप झांगु, होंड़ा के प्रधान रमेश समोटा, इंटक के राजबीर चहल व राजकुमार जाट, रीको से सतीस खटकड़ आदि ने सम्बोधित किया।

मारूति कामगार यूनियन के महासचिव कुल्दीप झांगु ने श्रमिकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा सरकार व पूर्व की सरकारे हमेशा से मजदूर विरोधी रही है, सरकार अपने विषय में सोचती है मजदूरों के हित को नकारती है। उन्होंने कहा कि मजदूरों की एकता ही उनका सबसे बड़ा हथियार है, इसलिए हम सब को मिलकर अपने हक की लड़ाई लडऩी है। एटक के प्रदेशाध्यक्ष बलदेव घनघस ने कहा कि भाजपा सरकार अपने को नम्बर एक बताती है, लेकिन उन्होने हरियाणा में मजदूरों के सभी हक छिन कर उन्हे बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा व कांग्रेस एक ही सिक्के के दो पहलु है। इस मौके पर मानेसर से होंड़ा, सत्यम, रीको, नपीनो आटो, आटोलिव, एमके आटो, मुन्जाल सोवा, औमक्स, मुन्जाल किरू, बैक्शटर, एन्डुरंस, लुमक्स व मारूती, बावल से एआईएस गलास, राणे एनएसके, धारूहेड़ा से औमक्स, रीको, गुडग़ांव से हेमा यूनियन कम्पनी, मारूती कम्पनी यूनियन के पदाधिकारी व हजारों की तादाद में श्रमिक मौजूद रहे।

(संदीप यादव)