जीएसटी में बदलाव को तंवर ने बताया महज खोट


tanwar

जींद: सूबे में अध्यक्ष पद को बदले जाने के लगाये जा रहे कयासों पर फूलस्टाप लगाते हुए कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर ने कहा कि जो लोग उनको हटाएं जाने पर तारीख-पे-तारीख का प्रचार कर रहे है, वह केवल प्रचार ही रह जाएगा। इसलिए जिन लोगों को पार्टी से जुड़ना है, वे एक राय बनाकर पूरी तरह से समर्पित होकर जुड़े। क्योंकि उनको बदले की अटकलें आज से नहीं पिछले एक-दो सालों से जोरों पर चल रही है, लेकिन वह महज अटकलें ही रह गई है। प्रदेशाध्यक्ष को बदलने का काम पार्टी आलाकमान को करना है और आलाकमान प्रदेश के संगठन की कार्यशैली से पूरी तरह से खुश है। डॉ. अशोक तंवर शनिवार को कांग्रेस भवन में आईटी सैल की जिला स्तरीय बैठक लेने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

इस मौके पर जींद से पार्टी प्रत्याशी रहे प्रमोद सहवाग, प्रदेश सचिव धर्मपाल कटारिया, विकास पोडिय़ा, अजमेर रेढू, सुमेर पहलवान, विकास सहित दर्जनों कार्यकत्र्ता मौजूद थे। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने भाजपा सरकार द्वारा जीएसटी पर लिये गए बैकफुट फैसले पर अंगुली उठाते हुए कहा कि यहां भी भाजपाइयों की नियत में खोट नजर आ रहा है। क्योंकि जिन वस्तुओं पर जीएसटी कम किया है, उनमें से अधिकतर पाश्चात्य संस्कृति से जुड़ी हुई है। सीमेंट और दूसरी खास वस्तुएं आज भी जीएसटी की मार तले आ रही है। उन्होंने कहा कि जीएसटी हो या फिर नोटबंदी, इन दोनों मामलों में देश की जनता को जो चोट पहुंची है, उसका बखूबी से हिसाब लिया जाएगा। भाजपाई गुजरात में लोगों के सामने तन कर वोट नहीं मांग पा रहे हैं।

क्योंकि सत्ताधारी इस बात को जानते है कि उन्होंने अच्छे दिन लाने की बजाय लोगों को केवल कटु अनुभव ही दिये है। नोटबंदी के कारण देश में 150 से ज्यादा मौतें हुई थी। कांग्रेस के साथ-साथ दूसरे विपक्षी दलों ने पिछले दिनों जो काला दिवस मनाया था, उसमें जनता का बढ़-चढ़कर साथ देना, इस बात को पुख्ता करता है कि अब लोग भाजपा सरकार से छुटकारा पाना चाहते हैं। नोटबंदी की आड़ में भाजपाइयों ने पूरी शताब्दी का जो सबसे बड़ा घोटाला किया है, उसका जनता ही हिसाब लेगी।

उन्होंने कहा कि हिमाचल में 75 प्रतिशत मतदान का होना, इस बात का सूचक है कि जनता अब जाग रही है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने एक सवाल के जवाब में कहा कि गुजरात का चुनाव क्वार्टर फाइनल है। इस चुनाव में कांग्रेस उभरकर सामने आएगी। प्रदेश की मनोहर सरकार को कटघरे में ठहराते हुए डॉ. तंवर ने कहा कि रेयान स्कूल के घटनाक्रम से हरियाणा पुलिस की जो किरकिरी का खेल सामने आया है, उसके नतीजन इस विभाग को हांकने वाले मुख्यमंत्री की कोई पकड़ नहीं है। इसलिए पुलिस विभाग मनमाने तरीके से इधर-उधर डोल रहा है।

– संजय शर्मा